- कांवली रोड सहित कई इलाकों में चला चिन्हीकरण का काम

- 104 अवैध निर्माण किए गए चिन्हित

देहरादून: अतिक्रमण टास्क फोर्स द्वारा गुरुवार को रेसकोर्स इलाके में 92 अतिक्रमण ध्वस्त किए गए. यहां अतिक्रमणकारियों ने आलीशान कोठियों के मुख्य द्वार सड़क पर बनाकर तीन से पांच मीटर सड़क घेर रखी थी. अतिक्रमण की कार्रवाई में कई बड़े कारोबारी और अधिकारी भी जद में आए हैं. इधर, शहर के कांवली रोड समेत अन्य क्षेत्रों में टास्क फोर्स ने द्वारा 104 नए अतिक्रमण भी चिन्हित किए गए.

रेसकोर्स में गरजी जेसीबी

हाई कोर्ट के आदेश पर नगर निगम क्षेत्र में अतिक्रमण हटाओ अभियान के तहत सड़क, फुटपाथ, नाली और सरकारी जमीनों पर किए गए अतिक्रमण पर कार्रवाई जारी है. गुरुवार को टास्क फोर्स ने शहर की व्यवस्थित कॉलोनी रेसकोर्स में अतिक्रमण के खिलाफ कार्रवाई की. यहां फोर लेन सड़क होने के बावजूद लोगों ने सड़क तक तीन से पांच मीटर तक अतिक्रमण किया था. खासकर आलीशान कोठियों के मुख्य गेट पर आने-जाने के रास्ते को पूरी तरह से आरसीसी बनाया गया था. टास्क फोर्स ने जेसीबी चलाते हुए अधिकांश अतिक्रमण ध्वस्त किया है. सिटी मजिस्ट्रेट मनुज गोयल ने बताया कि यहां सड़क तक फैले अतिक्रमण को पूरी तरह से ध्वस्त कर दिया गया है. कई लोगों ने स्वयं अतिक्रमण हटाने की मोहलत मांगी है, ऐसे लोगों को निश्चित समय के भीतर स्वयं अतिक्रमण हटाने के निर्देश दिए हैं. इधर, टास्क फोर्स ने बंजारावाला में भी अभियान चलाया. मगर, यहां अधिकांश लोगों ने स्वयं अतिक्रमण हटाया. शहर में अब तक 7821 अतिक्रमण चिह्नित और 4526 ध्वस्त किए गए हैं.

टर्नर रोड पर 3 कॉम्प्लेक्स सील

गुरुवार को एमडीडीए की टीम ने टर्नर रोड पर तीन बड़े कॉम्पलेक्स सील किए हैं. इन लोगों को करीब एक माह पहले नोटिस दिया गया था. नक्शा न दिखाने और नोटिस का जवाब न देने पर एमडीडीए की टीम ने यहां पहुंचकर रईस आलम की छह दुकानों, ईशांत अहमद की चार दुकानों और सैमसंग मोबाइल के शोरूम को सील किया है. एमडीडीए का आरोप है कि इन लोगों ने आवासीय नक्शे पर व्यावसायिक प्रतिष्ठान खोले थे. अभी कई और लोगों के खिलाफ सीलिंग की कार्रवाई होनी है.