- इंजीनियर्स सम्मेलन में जीएम एनसीआर ने दिए सुझाव व निर्देश

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD:

उत्तर मध्य रेलवे मुख्यालय में दो दिवसीय वरिष्ठ मण्डल सिगनल एवं दूर संचार इंजीनियर्स सम्मलेन का आयोजन किया गया. जिसका उद्घाटन जीएम एनसीआर अरूण सक्सेना ने किया. संरक्षा पर विशेष जोर देते हुए जीएम एनसीआर व अन्य विभाग प्रमुखों ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि इस बात का विशेष ध्यान रखा जाए कि सिगनलिंग के कारण कोई दुर्घटना न होने पाये. इस दौरान उत्कृष्ट कार्य करने वाले कर्मचारियों को सम्मानित भी किया गया.

दक्षता विकास पर करें फोकस

उन्होंने सभी वरिष्ठ मण्डल सिगनल एवं दूर संचार इंजीनियर्स को यह भी निर्देश दिया कि स्किल दक्षता विकास कार्यक्रम पर फोकस करें ताकि पर्यवेक्षकों व अनुरक्षकों को अपने कार्य क्षेत्र का पूरा ज्ञान हो.

संरक्षा सम्बन्धी गतिविधियों तथा उपकरणों की निगरानी के लिये पूर्वानुमान तथा बचाव अनुरक्षण के लिए डाटा लागर एक महत्वपूर्ण उपकरण है. उन्होंने उत्तर मध्य रेलवे में ट्रेन परिचालन में सुधार के लिए चालू कार्यो के संरक्षित कार्यान्वयन के लिए जोर दिया. सलाह दी कि यात्री सुविधाओं को उच्च स्तर पर बनाये रखा जाए और सुरक्षा कार्यो को सितम्बर 2016 तक पूर्ण कर लिया जाये.

पुरस्कार से नवाजे गए

सम्मेलन का समापन गुरुवार को मुख्य सिगनल एवं दूर संचार इंजीनियर पुरस्कार वितरण के साथ हुआ, जिसमें रेल सप्ताह समारोह के अन्तर्गत कर्मचारियों-अधिकारियों को वर्ष 2015-16 में उनके उत्कृष्ट कार्य के लिए मनमोहन गढ़वाल, मुख्य सिगनल एवं दूर संचार इंजीनियर द्वारा सम्मानित किया गया. सम्मलेन की अध्यक्षता मुख्य सिगनल एवं दूर संचार इंजीनियर मनमोहन गढ़वाल ने की तथा संचालन मुख्य सिगनल इंजीनियर अनिल कुमार मिश्रा ने किया.