इंग्‍लैंड को 24 रन की बढ़त
इससे पहले इंग्‍लैंड की पूरी टीम पहली पारी में टेस्‍ट के तीसरे दिन 319 रन बनाकर आउट हो गई. इस तरह से इंग्‍लैंड को पहली पारी में 24 रनों की बढ़त हासिल हो गई. इंग्‍लैंड ने दूसरे दिन के 6 विकेट खोकर 219 रन से आगे खेलते हुये तीसरे दिन जल्‍दी-जल्‍दी विकेअ गवांये, लेकिन एक बार फिर एंडरसन ने प्‍लांकेट के साथ मिलकर अपनी टीम को मनोवैज्ञानिक बढ़त दिलायी. तीसरे दिन इंग्‍लैंड को मैट प्रायर के रूप में पहला झटका लगा. प्रायर ने 23 रन बनाये और मोहम्‍मद शमी ने उन्‍हें शिखर धवन के हाथों कैच कराकर पवेलियन भेजा. इसके 1 रन बाद ही 276 के कुल स्‍कोर पर इंग्‍लैंड को बेन स्‍टोक्‍स के रूप में 8वां झटका लगा. बेन को आउट करते ही भुवनेश्‍वर कुमार ने इंग्‍लैंड की पारी में अपना 5वां शिकार किया.

टेलेंडर्स ने संभाला
आठ विकेट गिर जाने के बाद स्‍टुअर्ट ब्रॉड मैदान पर आये, लेकिन वह इंग्‍लैंड की पारी को आगे नहीं ले जा पाये. भुवनेश्‍वर ने उन्‍हें अपना शिकार बनाया. 280 के स्‍कोर पर 9वां विकेट गिर जाने के बाद जेम्‍स एंडरसन क्रीज पर उतरे. उन्‍होंने पहले से मैदान में जमे प्‍लंकेट के साथ पारी को संभाला और अपनी टीम को इंडिया के स्‍कोर से आगे ले गये. इस दौरान प्‍लंकेट ने अपनी हाफ सेंचुरी बनाई और अपनी टीम को मनोवैज्ञानिक बढ़त दिलाने का काम किया. इंग्‍लैंड की ओर से सबसे ज्‍यादा 110 रन बैलेंस ने बनाये, जबकि प्‍लंकेट के अलावा कोई भी अन्‍य प्‍लेयर 50 रन का आंकड़ा भी नहीं छू सका. टीम इंडिया की ओर से भुवनेश्‍वर कुमार सबसे सफल बॉलर रहे, उन्‍होंने 6 विकेट हासिल किये. भुवी के अलावा रविंद्र जडेजा 2, शमी और मुरली विजय ने 1-1 विकेट लिये.

Cricket News inextlive from Cricket News Desk