वर्तमान में सिर्फ जमा होने की देता है सूचना
नई दिल्‍ली (प्रेट्र)।
मौजूदा समय में इम्‍पलॉई प्रोविडेंट फंड ऑर्गेनाइजेशन (ईपीएफओ) अंशधारकों को अंशदान जमा होने पर सूचना देता है। ग्राहकों को यह सूचना उनके यूनिवर्सल (ईपीएफ) अकाउंट नंबर पर पंजीकृत एसएमएस या ईमेल नंबर पर भेजा जाता है। ईपीएफओ ने अपने एक वकतव्‍य में कहा कि खाते में अंशदान जमा न होने की सूरत में अभी तक ग्राहकों को सूचना नहीं मिलती थी। इस खाते में अब और अधिक पारदर्शिता लाने के लिए यह तय किया गया है कि कंपनी द्वारा अंशदान नियत समय पर जमा न होने की सूरत में ग्राहकों को तुरंत सूचित किया जाएगा।

ई-पासबुक पर भी मौजूद अंशदान की डिटेल
ईपीएफओ के वकतव्‍य के अनुसार, पीएफ अंशदान जमा होने की सूचना हर महीने ईपीएफओ ग्राहकों को उनके मोबाइल नंबर या ईमेल से सूचित करेगा। कोई भी ग्राहक चाहे तो ऑनलाइन ई-पासबुक के जरिए अपने खाते की डिटेल देख सकता है। इसके अलावा उमंग मोबाइल एप के साथ-साथ कॉल सर्विस पर मिस्‍ड कॉल के जरिए भी खाते में जमा अंशदान की डिटेल पता की जा सकेगी। ईपीएफओ सदस्‍य इनमें से किसी भी माध्‍यम से नियमित तौर पर अपने हर महीने के अंशदान की डिटेल प्राप्‍त कर सकेगा। इसके अलावा ईपीएफओ हर महीने नियोक्‍ता द्वारा घोषित नये कर्मचारियों की एज-बैंड वाइज आंकड़े जारी करेगी।

ऑनलाइन मिलेगी सभी जानकारियां
कर्मचारियों से जुड़ी हर जानकारी ऑनलाइन देखी जा सकेगी। अभी हाल ही में ग्राहकों को समय से सेवा और जानकारी उपलब्‍ध कराने के लिए ईपीएफओ ने ई-पहल की थी। ईपीएफओ का मकसद था 'मिनिमम गवर्नमेंट ऐंड मैक्सिमम गवर्नेंस'। भारत सरकार के इस मोटो को ध्‍यान में रखकर ग्राहकों के साथ ज्‍यादा से ज्‍यादा पारदर्शिता के साथ काम करना चाहती थी। ईपीएफओ में 5 करोड़ से ज्‍यादा सदस्‍य हैं और यह 10 लाख करोड़ रुपये का प्रबंधन करती है।

Business News inextlive from Business News Desk