BAREILLY। शील चौराहा पर पुलिस चौकी के समीप एक छात्रा से युवक ने छेड़छाड़ की. वह छात्रा का रास्ता रोककर खड़ा हो गया. इसी दौरान छात्रा ने वहां से गुजर रही एबीवीपी की साहसी प्रोग्राम की ग‌र्ल्स ट्रेनर्स से मदद मांगी. ट्रेनर्स ने छेड़खानी का विरोध किया. तो मनचले युवक ने उनके साथ भी बद्तमीजी की. जिसके बाद ट्रेनर्स ने युवक की पिटाई कर दी और उसे चौकी में लेकर गई. चौकी पुलिस ने कार्रवाई में आनाकानी की तो फिर चौकी में हंगामा हो गया. एबीवीपी के वर्कर भी मौके पर पहुंच गए. चौकी पर बवाल होते देख बड़ी संख्या में फोर्स भेजी गई, जिसके बाद सीओ सिटी वन कुलदीप यादव पहुंचे और एफआईआर दर्ज कर मामले को शांत कराया. पुलिस ने संगठन मंत्री राहुल की तहरीर पर एफआईआर दर्ज कर ली है. पुलिस ने आरोपी मुस्तकीम को गिरफ्तार कर लिया है.

कई दिनों से कर रहा था परेशान

छात्रा ने बताया कि मुस्तकीम उसे कई दिनों से परेशान कर रहा है. वह रास्ता रोककर खड़ा हो जाता है. वेडनसडे को भी जब छात्रा जा रही थी तो मुस्तकीम ने उसकी साइकिल के आगे स्कूटी लगा दी. जब उसने विरोध किया तो उसके साथ छेड़छाड़ शुरू कर दी. इसी दौरान साहसी की ट्रेनिंग देने वाली प्रेरणा राजपूत, आस्था झींगरन और गरिमा सिंह वहां से गुजरीं. छात्रा उनको जानती थी जिसके चलते उन्हें दीदी कहकर बुलाया और बताया कि युवक उसे परेशान कर रहा है, जिसके बाद ट्रेनर्स ने उसकी मदद की. एबीवीपी के संगठन मंत्री राहुल चौहान ने बताया कि शील चौराहा अक्सर छेड़छाड़ होती है. यहां पर आवारा किस्म के लड़के खड़े रहते हैं. जब आज की वारदात के बारे में चौकी में शिकायत की गई तो एक सिपाही आरोपी को बचाने की बात करने लगा. जबकि शील चौराहा पर छेड़छाड़ की वारदातों को रोकने के लिए ही यहां पर चौकी खोली गई थी. उन्होंने एसपी सिटी से फोन पर बात कर पुलिसकर्मियों को हटाने की मांग की. एसपी सिटी ने कार्रवाई का आश्वासन दिया है.

क्या है साहसी

साहसी, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की ओर से चलाया जा रहा एक प्रोग्राम है. इसके तहत छात्राओं को आत्मरक्षा की ट्रेनिंग दी जाती है. उन्हें मार्शल ऑर्ट सिखाया जाता है. यह प्रोग्राम स्कूलों में जाकर चलाया जाता है.