दरभंगा हाऊस के पास लड़की से छीन ली चेन
तीनों का पल्सर से पीछा कर रहे थे लफुए

ऋचा, अंजलि और तन्वी कॉलेज से मंदिर जा रही थीं। इसी बीच, अचानक से किसी ने ऋचा का दुपट्टा छीन लिया। तीनों चौंक पड़ी। राशि तो उससे भिड़ भी गई। इतने में लड़के ने उस पर पिस्टल सटा दिया। जब तक वे कुछ समझ पातीं, तब तक लफुओं ने उसके गले की चेन झपट ली।

बीकॉम थर्ड इयर की स्टूडेंट्स
तीनों लड़कियां चिल्लाती रह गईं और दो बाइक पर सवार चार लफुए फरार हो गए। घटना दरभंगा हाऊस से थोड़ी दूरी पर हुई। तीनों वाणिज्य महाविद्यालय में बीकॉम थर्ड ईयर की स्टूडेंट हैं। घटना के बाद पीरबहोर थाने पहुंची लड़कियों ने बताया कि दो पल्सर पर एक-एक लड़के चल रहे थे, जबकि बाइक से उतरकर दो लड़के हमारे पीछे-पीछे आ रहे थे।

कॉलेज से गई थी मंदिर
उनलोगों ने बताया कि हमें लगा कि ये लोग रोज-रोज वाले लफुए टाइप स्टूडेंट होंगे। पर, जब उनलोगों ने दुपट्टा खींचा, तब लगा कि ये लोग लफुए ही हैं। तीनों में सिर्फ ऋचा ने ही चेन पहन रखी थी। वैसे वह दुपट्टा से पहले ही गले की चेन ढंक रखी थी। कॉलेज से ये लोग पूजा करने काली मंदिर गई थीं, वहीं से लौटने के क्रम में यह हादसा हुआ।

स्केच बनवा रही है पुलिस
शहर में चेन लुटेरों के बढ़ते आतंक को देखकर महिलाएं तो पहले से ही डरी हैं। ऐसे में दुपट्टा खींचकर चेन लूटने की जुर्रत से सभी दंग हैं। मामले की जांच में पुलिस लग गयी है। इन लड़कियों के बताए गए हुलिये के आधार पर स्केच बनाया जा रहा है। लड़कियों ने बताया कि चेन छीनने वाले ब्लैक कलर का जैकेट पहने थे।

पुलिस का कंट्रोल नहीं
शहर में चेन लुटेरों का आतंक बहुत दिनों से है। एक के बाद एक वारदातें हो ही रही हैं, पर पुलिस इस पर कंट्रोल नहीं कर पा रही। वैसे कॉलेज के पास इस तरह की घटना अब तक नहीं हुई थी। यह लूट जहां हुई, वहां से चंद कदम की दूरी पर ही दरभंगा हाऊस और काली मंदिर है। कॉलेज कैम्पस के पास अगर अपराधी किसी को निशाना बनाते हैं, तो यह पुलिस के लिए और चैलेंजिंग है।