PATNA: बिना पैसे का काम किसी का नहीं चलता लेकिन वित्तीय जागरूकता के बिना पैसा सेफ रखना भी मुश्किल है. बदले समय के साथ वित्तीय संस्थानों ने कस्टमर्स को कई प्रकार की सुविधाएं भी दी हैं. ये सुविधाएं क्यां हैं और कैसे सेफ व सही तरीके से वित्तीय लेन-देन करें इन बातों की जानकारी को सुलभ कराने और अधिक से अधिक लोगों तक प्रसारित करने का काम रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) की ओर से किया जा रहा है. हाल ही में आरबीआई (बिहार-झारखंड) के क्षेत्रीय निदेशक मनोज कुमार वर्मा ने ऐसे कई कार्यक्रमों के माध्यम से वित्तीय जागरूकता के अभियान को तेजी से आगे बढ़ाया है. इसका प्रचार बिहार के सभी फ्8 जिलों में किया जा रहा है. इसी कड़ी में सोमवार को दरभंगा हाउस में वित्तीय जागरूकता के लिए वर्कशॉप का आयोजन किया गया है.

पेंटिंग में वित्तीय जानकारी

आमतौर पर पेंटिंग का नाम सुनते ही कला एवं संस्कृति से जुड़े ख्याल मन में उभरने लगने हैं. लेकिन यदि पेंटिंग के माध्यम से वित्तीय जागरूकता कार्यक्रम को आगे बढ़ाया जाए तो फिर बात और ही है. आरबीआई के मैनेजर प्रवीण कुमार ने बताया कि हमलोगों ने पेंटिंग को वित्तीय जागरूकता का माध्यम बनाया है. इसके दो फायदे हैं - एक तो यह कम खर्चीला है और दूसरा यह अन्य माध्यमों की तुलना में ज्यादा टिकाऊ भी है. यह उन विद्यालयों की दीवारों पर कराए जा रहे हैं जो कि मुख्य शहर से दूर ग्रामीण क्षेत्र के सरकारी स्कूल हैं.

वर्कशॉप भी होंगे

आरबीआई के 80वां स्थापना दिवस पर 80 स्कूलों में वित्तीय साक्षरता गैलरी बनाई गई है. हाल ही में क्षेत्रीय निदेशक मनोज कुमार वर्मा ने राजकीय मध्य विद्यालय, लाल कोठी, दानापुर में एक वित्तीय साक्षरता गैलरी का उद्घाटन किया. इस अवसर पर आरबीआई के उप महाप्रबंधक बृजराज, सहायक महाप्रबंधक एनके वर्मा, प्रबंधक प्रवीण कुमार, मध्य बिहार ग्रामीण बैंक के अध्यक्ष अनिल कुमार भाटिया व अन्य उपस्थित थे. इसके अलावा सिवान के उमाशंकर सिंह महाविद्यालय, गोपालगंज के देवापुर उच्च महाविद्यालय, मोतिहारी के भगत सिंह हाई स्कूल, दानापुर कैंट के लालकोठी मध्य विद्यालय व अन्य स्कूलों में वित्तीय गैलरी स्थापित की गई है.

वित्तीय गैलरी में है ये जानकारी

- जरूरी एवं गैर जरूरी खर्चे को समझना.

- केवाईसी के नियमों के तहत बैंक में खाता खोलना.

- फर्जी एसएमएस और फोन कॉल से सावधान रहना.

- बैंकिंग लोकपाल से बैंकिंग समस्याओं का समाधान.

- चालू खाता, बचत खाता, आवर्ति जमा खाता, सावधि जमा खाता, कर बचत जमा योजना आदि की जानकारी.

- मोबाइल बैंकिंग, इंटरनेट बैंकिंग, पिन कोड की गोपनीयता आदि की जानकारी.