-लकड़ी व उपलों के धुंए से भी कैंसर का खतरा

lucknow@inext.co.in

LUCKNOW:

कैंसर का खतरा लगातार बढ़ रहा है. विश्व में लगभग 1.5 करोड़ लोग कैंसर से प्रतिवर्ष पीडि़त होते हैं, इसमें से 88 लाख लोगों की प्रतिवर्ष मृत्यु हो जाती है. तंबाकू, बीड़ी, सिगरेट, गुटखा, पान मसाला, वायु प्रदूषण और मासांहारी भोजन कैंसर को जन्म देने वाले प्रमुख कारण हैं. आईएमए भवन में आयोजित जागरुकता कार्यक्रम में प्रेसीडेंट डॉ. सूर्यकांत ने यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि कैंसर के प्रति डरने की बजाए जागरुक रहने की आवश्यकता है, जिससे प्राथमिक चरण में इसकी पहचान कर इससे बचा जा सके.

केजीएमयू के रेस्पीरेटरी विभाग के एचओडी डॉ. सूर्यकांत ने बताया कि महिलाएं लकड़ी व उपलों के चूल्हे पर खाना बनाती हैं, उसके धुएं के कारण भी कैंसर होने का खतरा रहता है. अचानक वजन कम होना बुखार रहना, शरीर के किसी हिस्से में गांठ होना या महिलाओं के मासिक धर्म की अनियमितता हो जाना महिलाओं में कैंसर के मुख्य लक्षण हैं. इस अवसर पर आईएमए द्वारा नि:शुल्क कैंप का आयोजन किया गया, जिसमें लगभग 135 मरीजों का नि:शुल्क परीक्षण एवं दवा वितरण किया गया. इस अवसर पर डॉ. विजय कुमार, डॉ. विश्वजीत सिंह, डॉ. शैलेंद्र कुमार सहित अन्य लोग मौजूद रहे.