-कैंट के पुराना मोहनपुर में सैटरडे रात हुई वारदात

BAREILLY: कैंट के पुराना मोहनपुर में नामकरण संस्कार में डीजे पर डांस के दौरान ग‌र्ल्स के साथ छेड़छाड़ की गई. जब छेड़छाड़ का विरोध किया गया तो मनचलों ने जमकर गुंडई की. मनचले लाठी-डंडे लेकर पार्टी में टूट पड़े. लोगों के साथ मारपीट करने के साथ खाना भी फेंक दिया. यही नहीं जब लोग रिपोर्ट लिखाने पहुंचे तो एक युवक को थाने के पास ही घेरकर मारपीट की. पुलिस ने 6 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली है. वहीं दूसरे पक्ष ने रास्ते में बाइक खड़ी करने का विरोध करने पर मारपीट करने की 9 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है.

मोहल्ले के युवकों पर आरोप

मोहनपुर कैंट निवासी वेदपाल का आरोप है कि रात में करीब साढ़े 10 बजे नामकरण की पार्टी चल रही थी. एक तरफ मेहमान खाना खा रहे थे और दूसरी ओर डीजे पर डांस हो रहा था. डीजे पर ग‌र्ल्स डांस कर रही थीं कि तभी मोहल्ले के लोकराम, नेतराम, भूपराम, रामदास, गौरव, विनोद उर्फ छोटू व अन्य आ गए और ग‌र्ल्स के साथ छेड़छाड़ शुरू कर दी. जब छेड़छाड़ का विरोध किया तो झगड़ा करना शुरू कर दिया. उस वक्त दो मिनट में झगड़ा शांत हो गया.

लाठी-डंडे लेकर पहुंचे दबंग

वेदपाल के भतीजे राम मौर्या का आरोप है कि कुछ देर बाद सभी लाठी-डंडे लेकर पहुंच गए और मारपीट शुरू कर दी. यही नहीं वहां खड़ी गाडि़यों के शीशे तोड़ दिए. मेहमानों के लिए रखा खाना फेंक दिया. पानी की बोतल नीचे गिरा दीं, जिससे हड़कंप मच गया. मारपीट में ऊषा देवी, मोनी, समेत करीब आधा दर्जन लोग घायल हो गए. मामले की सूचना पुलिस को दी गई तो आरोपी मौके से फरार हो गए.

थाने के बाहर घेरकर मारपीट

राम मौर्या ने बताया कि सभी लोग मामले की शिकायत करने थाने पहुंचे. वह बाइक से पहले पहुंच गया तो देखा कि दूसरे पक्ष के लोग पहले से ही थाने के बाहर खड़े थे. जैसे ही वह पहुंचा तो उसे थाने के गेट के पास घेर लिया और थाने के पीछे की गली में दौड़ाकर पीटा. उसे मोहल्ले वालों और पुलिस ने उसे बचाया. राम का आरोप है कि उसके बाद पुलिस ने उन्हें मेडिकल के लिए भेजा तो पुलिस ने उसकी बहन से तहरीर लिखवा ली, जिसमें कुछ हिंदू संगठन के लोग थे, जिनके नाम हटवा दिए. इन लोगों ने एफआईआर दर्ज कराने के बाद भी उनका रास्ता रोका, जिसकी वजह से वह सुबह घर पहुंचे.

दूसरे पक्ष बोला रास्ते का विवाद

वहीं इस मामले में दूसरे पक्ष ने रास्ते में बाइक हटाने को लेकर विवाद की बात कही है. जीवन के मुताबिक उनका भाई नेतराम जूस का ठेला लेकर जा रहा था. रास्ते में लखन की बाइक सड़क पर खड़ी थी. जब बाइक हटाने के लिए कहा तो नहीं हटाई. रास्ते से ठेला निकालने के दौरान बाइक से टकरा गया. इसको लेकर झगड़ा किया. जीवन ने राम, लखन, टिंकू, गंगा प्रसाद, मोनू, वेदपाल, सतीश, धर्मेद्र और वीरू के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है.