दो माह में बदले गए 4000 से अधिक विद्युत ट्रांसफार्मर

15 जुलाई से होगी 24 घंटे निर्बाध बिजली आपूर्ति

Meerut. 15 जुलाई से मेरठ को नो ट्रिपिंग जोन बनाने की कवायद में विद्युत विभाग पूरे दमखम के साथ जुटा हुआ है. शहर से लेकर देहात क्षेत्र के खराब व बार-बार रिपेयर होने वाले ट्रांसफार्मर बदले जा रहे हैं.

बदले ट्रांसफार्मर

विभाग लगातार लाइन से लेकर विद्युत मीटर, फीडर, ट्रांसफार्मर की कमियों को दूर करने में जुटा है. अप्रैल में शहर और देहात के लगभग 3385 और मई माह में 1281 से अधिक ट्रांसफार्मर बदले हैं. जिन क्षेत्रों के ट्रांसफार्मर बार-बार फुंकने या खराबी आने की शिकायत थी, उन्हें प्राथमिकता के तौर पर बदला जा रहा है.

24 घंटे में हटेगा

शासन के सख्त आदेश और नो ट्रिपिंग जोन की कवायद के चलते शहरी क्षेत्र में खराबी या शिकायत के 24 घंटे और देहात क्षेत्र में 48 घंटे के भीतर ट्रांसफार्मर को बदला जा रहा है.

नो ट्रिपिंग जोन के लिए पूरी तैयारी की जा रही है. पुरानी व जर्जर लाइन से लेकर ट्रांसफार्मर को बदला जा रहा है. फॉल्ट दूर किए जा रहे हैं.

संजय राणा, ईएक्सईएन

खपत और फॉल्ट पर होगी निगरानी

शहर को कटौती मुक्त बनाने की कवायद में बिजली विभाग फीडरों पर विद्युत मीटर लगाने की तैयारी कर रहा है. इनकी मदद से उस फीडर से संबंधित क्षेत्र में बिजली की खपत, फॉल्ट और चोरी आदि पर नजर रखी जाएगी और समस्या को तुरंत दूर किया जाएगा.

मीटर से मिटेगी समस्या

विद्युत विभाग के अनुसार सबसे अधिक बिजली की खपत ट्रांसफार्मर बार बार खराब होने और समय से सही सर्विस न होने से होती है. ऐसे में उस क्षेत्र के फीडर और ट्रांसफार्मर पर मीटर लगाया जाएगा. मीटर से पता चलेगा कि बिजली की कितनी सप्लाई की गई है, कितना लाइन लॉस है और कितनी बिजली चोरी हो रही है.

दूसरा इनसेट

मोबाइल वैन करेगी रिपेयर

आंधी-तूफान या तेज हवाओं के कारण अक्सर बिजली के तार टूट जाते हैं या शार्ट सर्किट से ट्रांसफार्मर में फॉल्ट आ जाता है. इस समस्या के लिए विद्युत विभाग अब मोबाइल वैन की सुविधा शुरू कर रहा है. इस मोबाइल वैन पर विद्युत विभाग के कर्मचारी, लाइनमेन रहेंगे, जो फॉल्ट की जानकारी मिलते ही मौक पर पहुंच फॉल्ट को ठीक करेंगे.

बॉक्स

अगर आपके इलाके में ट्रांसफॉर्मर खराब हो तो यहां कर सकते हैं शिकायत

हेल्पलाइन 1912

पीवीवीएनएल टोल फ्री नंबर 18001803002