चुनावों में बाहरी हस्‍तक्षेप का आरोप लगने के बाद, अब बदल गए विज्ञापनों से जुड़े सारे नियम

सैन फ्रांसिस्को (आईएएनएस)विश्‍व भर में चुनावों में विदेशी हस्तक्षेप को रोकने के नए प्रयास के तहत सोशल मीडिया जायंट फेसबुक और टि्वटर ने अपने प्लेटफार्म पर राजनीतिक विज्ञापनों के लिए नए दिशा निर्देशों की घोषणा कर दी है। राजनैतिक विज्ञापन कराने से जुड़े नियम बदलने का असर सबसे पहले अमरीका में ही दिखाई देने वाला है।

हर राजनैतिक विज्ञापन पर दिखेंगे खास लेबल

फेसबुक ने अपनी ऑफीशियल ब्‍लॉग पोस्‍ट में बताया है कि अब से फेसबुक पर कराए गए किसी भी राजनैतिक ऐड के टॉप पर खास लेबल दिखाई देंगे। जिन पर लिखा होगा कि यह ऐड किसके द्वारा कराया जा रहा है या फिर इस ऐड का खर्चा कौन उठा रहा है। ऐसा करने के लिए राजनैतिक विज्ञापन कराने वाले हर एक एडवर्टाइजर को अपनी पहचान और लोकेशन वेरीफाई करानी होगी। आपको बता दें कि राजनैतिक विज्ञापनों से जुड़े ये नए नियम सबसे पहले अमरीका में ही लागू में हो रहे हैं। भारत समेत दुनिया के बाकी देशों में सोशल मीडिया के ये नए नियम लागू होने में अभी वक्‍त लग सकता है।

टि्वटर ने चुनावों में अमरीका को टारगेट करने वालों के लिए शुरु की पूछताछ

फेसबुक की ही तरह टि्वटर भी चुनावी विज्ञापनों को लेकर काफी सतर्क हो गया है। अमरीका में साल 2016 में हुए राष्‍ट्रपति चुनावों को लेकर आरोप लग चुके हैं कि उस दौरान रूस के विज्ञापनदाताओं ने अमरीकी लोगों को टारगेट करते हुए फर्जी सोशल मीडिया पोस्‍ट जारी किए थे। दोबारा ऐसी स्थिति न आए, इसके लिए टि्वटर ने हर एक ऑनलाइन एडवर्टाइजर से कह दिया है कि अमरीकी चुनावों को टारगेट करने वाले हर व्‍यक्ति की पहचान बताए और अपना वेरीफाइड सर्टीफिकेट हासिल करे।

फेसबुक-टि्वटर पर अब नहीं चल पाएंगे फर्जी राजनैतिक विज्ञापन! आ गए हैं ये नए रूल

यूजर्स द्वारा रिपोर्ट करने पर राजनैतिक ऐड को बंद कर देगा फेसबुक!

फेसबुक में प्रोडक्‍ट मैनेजमेंट के डायरेक्‍टर Rob Leathern ने बताया है कि इतनी सावधानी के बाद भी कोई राजनैतिक विज्ञापन अगर बिना प्रॉपर लेबलिंग के फेसबुक पर आ जाता है, तो यूजर्स उसे लेकर जैसे ही फेसबुक को रिपोर्ट करेंगे, फेसबुक उस विज्ञापन को बंद करके आर्काइव में भेज देगा। बिना राजनैतिक लेबल वाले विज्ञापन के राइट हैंड टॉप पर मौजूद 3 डॉट्स पर क्लिक करके यूजर फेसबुक को रिपोर्ट कर सकते हैं। यहां पर उसे राजनैतिक ऐड रिपोर्ट करें या उसके कंटेंट को लेकर इश्‍यू रेज करें, तो फेसबुक जल्‍द से जल्‍द उसे ऐड को बंद करके आर्काइव में भेज देगा।

वोटिंग से पहले ब्‍लैक आउट डेज में नहीं चल सकेगा कोई राजनैतिक विज्ञापन

राजनैतिक विज्ञापनों को लेकर फेसबुक ने एक और सख्‍त नियम जारी कर दिया है। किसी क्षेत्र या राज्‍य विशेष में चुनाव प्रचार के लिए पूर्व निर्धारित ब्‍लैक आउट डेज में फेसबुक विज्ञापन भी बंद रहेंगे। अभी तक तो वोटिंग के दिनों में भी फेसबुक पर राजनैतिक ऐड चलते रहते थे। फेसबुक के नए नियमों के मुताबिक अब किसी व्‍यक्ति विशेष के पक्ष या खिलाफ फेसबुक पर राजनैतिक विज्ञापन नहीं चल सकेंगे।

International News inextlive from World News Desk