Messenger kids ऐप से बिगड़ न जाएं बच्‍चे, इसलिए फेसबुक ने उठाया कदम

सैन फ्रांसिस्को (IANS): दुनिया के सबसे बड़े और पॉपुलर सोशल मीडिया प्‍लेटफॉर्म फेसबुक के दीवानों में बड़े ही नहीं बच्‍चे भी शामिल हैं। यही वजह है कि कुछ महीने पहले ही फेसबुक ने अपने कम उम्र यूजर्स के लिए फेसबुक मैसेंजर किड्स लॉन्‍च किया था। कोई भी बच्‍चा जो 13 साल सा उससे अधिक उम्र को हो , तो वो इस ऐप पर अकांउट बनाकर अपने स्‍कूल फ्रेंड्स और रिलेटिव्‍स के साथ चैटिंग और वीडियो कॉलिंग कर सकता है। बता दें कि Messenger kids ऐप में नॉर्मल फेसबुक Messenger की तुलना में कई ऐसे फीचर्स और टूल्‍स बंद कर दिए गए हैं, जो खासतौर पर वयस्‍कों के काम आने वाले हैं। शुरु में तो बच्‍चों समेत पेरेंट्स को भी यह ऐप काफी पसंद आई, लेकिन धीरे धीरे पेरेंट्स को इस ऐप में तमाम ऐसी कमियां नजर आने लगीं, जो बच्‍चों के हित में नहीं हैं। यही वजह है कि कंपनी के पास दुनिया भर के हजारों पेरेंट्स की ओर से Messenger kids में सुधार को लेकर की ऑनलाइन सुझाव और सलाहें पहुंच चुकी हैं। इसी के बाद फेसबुक ने आनन फानन में फेसबुक Messenger kids ऐप में सुधार करना शुरु कर दिया है, ताकि पेरेंट्स खुश रहें और बच्‍चों को यह ऐप यूज करने दें।

रात दिन बच्‍चे चैटिंग में ही न जुटे रहें, इसके लिए लॉन्‍च किया डायरेक्‍ट स्‍लीप मोड

फेसबुक Messenger kids ऐप को लेकर पेरेंट्स की बड़ी शिकायत है कि बच्‍चे होम वर्क के दौरान, रात के खाने और सोने के पहले भी काफी देर तक ऐप पर चैटिंग में जुटे रहते हैं और देर से सोते हैं। फेसबुक ने इस समस्‍या का हल निकालने के लिए अब Messenger kids ऐप में स्‍लीप मोड का ऑप्‍शन जोड़ दिया है। सबसे खास बात यह है कि अब पेरेंट्स अपने अकाउंट द्वारा बच्‍चों की मैसेंजर ऐप का स्‍लीप टाइम निर्धारित कर सकते हैं। स्‍लीप टाइम के दौरान बच्‍चे किसी भी सूरत में ऐप का इस्‍तेमाल नहीं कर पाएंगे। वो जब भी ऐप खोलेंगे तो उन्‍हें मैसेज दिखेगा कि ऐप स्‍लीप मोड में है। प्‍लीज बाद में ओपन करें।

फेसबुक ने पेरेंट्स को दी नई ताकत,बच्‍चों की मैसेंजिंग और चैटिंग हैबिट पर कर सकेंगे फुल कंट्रोल!

बच्‍चों की चैटिंग पर नियंत्रण के लिए पेरेंट्स को मिल गया Parent Control centre

फेसबुक में प्रोडक्‍ट मैनेजर तरुण्य गोविंदराजन ने कंपनी की ऑफीशियल ब्लॉग पोस्ट में कहा है कि पेरेंट्स अपनी मेन ऐप में दिए पेरेंटल कंट्रोल सेक्‍शन से अपने बच्‍चों की मैसेंजर ऐप पर पूरा कंट्रोल कर सकते हैं। इस सेक्‍शन से पेरेंट बच्‍चों के मैसेंजर अकाउंट की एक एक गतिविधि पर निंयत्रण कर सकते हैं। पूरे हफ्ते या दिनों के हिसाब से स्‍लीप मोड सेट करने के अलावा, किसी कॉन्‍टैक्‍ट को डिलीट करना, बच्‍चे का अकाउंट डिसेबल या डिलीट करना और उसका नया अकाउंट बनाने तक सभी काम पेरेंट की मेन फेसबुक ऐप में दिए Parent Control centre से मैनेज किए जा सकते हैं।


यह भी पढ़ें:

यह स्‍मार्टवॉच आपके हाथ को बदल देगी टचस्‍क्रीन में, फिर होगा ये कमाल!

अब फेसबुक ऐप से होगा मोबाइल रिचार्ज, जानिए आसान तरीका

ये 5 एंड्रॉयड ऐप मोबाइल कैमरे को बना देती हैं DSLR! फिर सामने आती हैं दिल चुराने वाली तस्‍वीरें

Technology News inextlive from Technology News Desk