सैन फ्रांसिस्को (आईएएनएस)भारत समेत दुनिया भर से लोग बहुत सारे ऐसे मीम्‍स और कार्टून फेसबुक पर शेयर करते हैं, जिनके कारण हेट स्‍पीच को बढ़ावा मिलता है। इनके कारण कई बार फेमस लोगों को अपमान का सामना करना पड़ता है। अब इन मीम्‍स को रोकने के लिए फेसबुक ने एक ऐसे आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस टूल का इस्‍तेमाल शुरु किया है, जो मशीन लर्निंग के द्वारा किसी भी मीम्‍स में मौजूद तस्‍वीर, उसके टेक्‍स्‍ट या वीडियो कंटेंट को अलग अलग आईडेंटीफाई करेगा। ऐसा करने के पीछे फेसबुक का उद्देश्‍य है कि ऑफेंसिव मीम्‍स को पहचानकर उन्‍हें प्‍लेटफॉर्म पर आगे बढ़ने से रोका जा सके।

हर दिन 1 अरब से ज्‍यादा तस्‍वीरों की पहचान करेगा Rosettaप्रोग्राम
बता दें कि फेसबुक के मेन प्‍लेटफॉर्म समेत इंस्‍टाग्राम पर भी हर दिन टेक्‍स्‍ट के अलावा करोंड़ो तस्‍वीरें शेयर की जाती हैं। जिनमें अलग अलग भाषाओं में कंटेंट होता है। ऐसे में हर दिन इतनी तस्‍वीरों और वीडियोज की जांच कर पाना मुश्किल काम है। पर अब फेसबुक का आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस टूल 'रोसेटा' हर दिन एक अरब से ज्‍यादा तस्‍वीरों और वीडियोज की जांच कर सकेगा।

अपमानजनक तस्‍वीरों से निपटेगा फेसबुक का नया हथियार,हेट स्‍पीच के खिलाफ फेसबुक ने लगाया ai प्रोग्राम

पोस्‍ट, इमेज या वीडियो में पॉलिसी-उल्लंघन पाए जाने पर तुरंत हटा दिया जाएगा
फेसबुक का AI प्रोग्राम सबसे पहले इमेज में दिए टेक्‍स्‍ट और वीडियो के कंटेट को अलग करेगा। उसके बाद इसका इंटर्नल प्रोग्राम उस डेटा का मिलान पॉलिसी गाइडलाइन से करेगा। फेसबुक ब्‍लॉग के मुताबिक ऐसे में कोई भी अपमानजनक तस्‍वीर या वीडियो जैसे ही फेसबुक पॉलिसी का उल्‍लंघन करता पाया जाएगा। वैसे ही उसे सोशल प्‍लेटफॉर्म से रिमूव कर दिया जाएगा। कंपनी ने कहा है कि हम अपने इस कदम से फेसबुक की सोशल कम्‍युनिटी को सुरक्षित रखना चाहते हैं।

Technology News inextlive from Technology News Desk