कानपुर। कारगिल विजय दिवस  कारगिल युद्ध में शहीद हुए जवानों के सम्मान आैर भारत की जीत की खुशी में मनाया जाता है। मिड डे की रिपोर्ट के मुताबिक करीब 60 दिन से ज्यादा चले युद्ध का समापन 26 जुलाई, 1999 को हुआ था।भारतीय सैनिकों ने पाकिस्तान द्वारा हथियार्इ गर्इ चौकियों पर आज के दिन कब्जा भारतीय झंडा फहराया था।

शहीद सैनिकों को श्रद्धांजलि अर्पित करते
जम्मू-कश्मीर के कारगी-दास क्षेत्र में एक बड़ा पहाड़ है। इसे टाइगर हिल नाम से जाना जाता है। यह पहाड़ कारगिल युद्ध में सबसे महत्वपूर्ण बिंदु था। कारगिल विजय दिवस कार्गि-ड्रस क्षेत्र और नई दिल्ली में बड़े स्तर पर मनाया जाता हैै। प्रधान मंत्री हर साल इंडिया गेट में आकर अमर जवान ज्योति में शहीद सैनिकों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं।

2 माह से अधिक समय तक लड़ा गया युद्ध
कारगिल श्रीनगर से 205 किलोमीटर दूर है। यहां का मौसम काफी अलग है। गर्मियों में रात की ठंडी हवाआें से बड़ा सुकून मिलता है। वहीं सर्दियों में तो यहां आैर ज्यादा ठंडा रहता है। यहां शीतकाल में तापमान करीब 4 डिग्री सेल्सियस तक रहता है। बता दें कि कारगिल युद्ध मई से जुलाई 1999 तक 2 महीने से अधिक समय तक लड़ा गया था।

कारगिल की जीत के बाद देश में जश्न मना

पाक को आखिरी में भारतीय सैनिकों के साहस आैर अंतरराष्ट्रीय स्तर बने राजनयिक दबाव के आगे झुकना पड़ा था।कहा जाता है कि इस युद्ध में करीब 500 ​​से ज्यादा भारतीय सैनिक शहीद हुए। वहीं करीब 600 से 4,000 पाकिस्तानी आतंकवादी और सैनिक मारे गए थे।कारगिल युद्ध के समय, अटल बिहारी वाजपेयी भारत के प्रधान मंत्री थे।

कारगिल युद्ध पर अब तक कर्इ फिल्में बनीं
कारगिल की जीत के बाद से भारत में जश्न मना था। 19 साल पहले हुए इस कारगिल यु्द्ध में बाॅलीवुड में अब तक कर्इ बड़ी फिल्में बनी हैं। इसमें जेपी दत्ता की फिल्म एलओसी कारगिल फिल्म एक बड़ा उदाहरण हैै। इस फिल्म में संजय दत्त, अजय देवगन, सैफ अली खान, सुनील शेट्टी, संजय कपूर, अभिषेक बच्चन जैसे कलाकारों ने अभिनय किया है।

National News inextlive from India News Desk