PATNA : पटनाइट्स के लिए आज यह खबर पढ़नी जरूरी है. अगर आपके घर में कोई बीमार है और मेडिकल स्टोर में दवा खरीदने जा रहे हैं तो थोड़ा सावधान हो जाए. क्योंकि राजधानी में जीवन बचाने वाली असली दवाओं के नाम पर नकली दवाएं धड़ल्ले से बिक रहीं हैं. इन दवाओं के सेवन से न केवल आप बीमार होंगे, बल्कि आपकी जान भी जा सकती है. दवाओं के नाम पर मौत बांट रहे एक ऐसे ही गिरोह का पुलिस ने पर्दाफाश किया है. इनके पास से पुलिस ने करीब 8 लाख की दवाएं बरामद की हैं.

-पुलिस ने 5 लोगों को किया अरेस्ट

राजधानी पुलिस को लंबे समय से शहर में नकली दवा के कारोबार की सूचना मिल रही थी. गुरुवार को मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने राजधानी के बिहारी शाव लेन में दवा की तीन दुकानों में छापेमारी की. इस दौरान दुकानों में अफरा तफरी मच गई. पुलिस ने ड्रग टीम के साथ अमन फार्मा, पटना मेडिको राय मेडिकल में छापेमारी कर लीवर की बीमारी से जुड़ी नकली दवाओं को बरामद किया. एसएसपी मनु महाराज ने बताया कि ये रैकेट बहुत बड़ा है. जो लंबे समय से बाजारों में नकली दवाओं को बेच रहे हैं. ऐसी दवाएं खाकर बीमार लोग ठीक होने के बजाय मौत की तरफ बढ़ते हैं. अगर सीधे तौर पर कहें तो पटना पुलिस के लिए यह एक बड़ी सफलता है. ऐसे गिरोह खुले आम दवा के नाम पर आम लोगों को मौत बेच रहे हैं. एसएसपी ने बताया नकली दवा की बाजार में कीमत करीब 8 लाख रुपए बताई जा रही है. नकली दवा का कारोबार करने वाले रैकेट में 5 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. जबकि गिरोह के अन्य सदस्यों को पकड़ने के पुलिस छापेमारी कर रही है.