DEHRADUN: सेना में भर्ती के नाम पर बेरोजगार युवाओं को लाखों रुपए का चूना लगाने वाला मुख्य आरोपी हरि कृष्णन सिंह आईटीबीपी में जवान रह चुका है. हरि कृष्णन को भ्रष्टाचार के आरोपों के चलते बर्खास्त किया गया था. जिसके बाद हरिकृष्णन ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया और केस लड़ने के लिए पैसे की जरूरत पड़ने पर युवाओं को ठगना शुरू कर दिया. हरिकृष्णन मेजर बनकर युवाओं को सेना में भर्ती करने का झांसा देता था.

युवाओं को विश्वास में लेती थी पिंकी

आर्मी में भर्ती के नाम पर ठगी करने वाले हरिकृष्णन की कहानी किसी फिल्मी कहानी से कम नहीं है. हरिकृष्णन 2006 में आईटीबीपी में कांस्टेबल पद पर भर्ती हुआ था. 2014 में हुए सतपाल सिंह त्यागी भर्ती प्रकरण में हरिकृष्णन पर भ्रष्टाचार का आरोप लगा था. आरोपों के चलते हरिकृष्णन को डेढ़ महीने तक जेल में रहना पड़ा. इसके बाद उसे नौकरी से बर्खास्त कर दिया गया. हरिकृष्णन ने पूरे मामले को लेकर केस लड़ने का निर्णय लिया. केस लड़ने के लिए उसे पैसों की जरुरत थी. इसके लिए उसने युवाओं को सेना में नौकरी का झांसा देकर ठगी करने का प्लान बनाया. हरिकृष्णन ने सोनू नाम के युवक के साथ बेरोजगार युवाओं को सेना में भर्ती का सपना दिखाकर ठगी का धंधा शुरू कर दिया. सोनू पेशे से कार चालक है. सोनू को उसने विश्वास में लेकर यह कहा कि वह आर्मी में मेजर है और युवाओं को नौकरी दिलाता है. इसके बाद सोनू ने यह बात अपनी रिश्तेदार पिंकी को बताई. जिस पर पिंकी ने अपने गांव और रिश्तेदारी में सेना में भर्ती को लेकर कई लोगों को विश्वास में लिया. पिंकी ने युवाओं से यह कहकर पैसे लिए कि अगर वह सेना में भर्ती नहीं हुए तो वह खुद उनके पैसे वापस करेगी. इसके बाद सोनू और हरिकृष्णन के साथ पिंकी भी शामिल हो गई. इसके बाद वे युवाओं को झांसे में लेकर ठगी करते रहे.

जल्द गिरफ्तार होगी पिंकी

सूत्रों का दावा है कि ठगी में शामिल पिंकी को पुलिस जल्द गिरफ्तार कर सकती है. पिंकी के बारे में पुलिस नया गांव में जानकारी भी जुटा चुकी है. साक्ष्य पुख्ता होते ही पुलिस पिंकी को गिरफ्तार करेगी. अब तक पुलिस को जो साक्ष्य मिलें हैं, उसमें पिंकी का सीधे तौर पर क्राइम कनेक्शन प्रूफ नहीं हो पाया है.

आरोपी खुद को मेजर बताकर युवाओं को सेना में भर्ती करने का झांसा देकर ठगी करता था. हरिकृष्णन आईटीबीपी में कांस्टेबल रह चुका है. भ्रष्टाचार के चलते उसे बर्खास्त किया गया था.

- जगत सिंह, विवेचक

Crime News inextlive from Crime News Desk