-बिजलीकर्मी बनकर व्यापारियों की दुकान में करने गए थे वसूली

-शक होने पर व्यापारियों ने पकड़कर चार ठगों को किया पुलिस के हवाले

>

BAREILLY: फरीदपुर कस्बा स्थित ज्वैलरी मार्केट में वसूली कर रही फर्जी विजिलेंस टीम के चार जालसाजों को व्यापारियों ने पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया. जबकि मौका पाकर आठ जालसाज भागने में कामयाब हो गए. जालसाज दुकानदारों से लोड आदि के नाम पर डराकर रुपए ऐंठने की फिराक में थे. जबकि कई व्यापारियों से रुपए वसूल भी लिए थे. जब यह बात बाजार में फैली तो व्यापार मंडल के लोग इकट्ठा हो गए. जालसाजों की हकीकत तब खुली जब व्यापार मंडल के लोगों ने आईकार्ड मांगा.

ठगों ने वापस किए रुपए

बिजली विभाग की फर्जी विजिलेंस टीम बनाकर 12 जालसाज संडे सुबह फरीदपुर कस्बा पहुंच गए. इस दौरान व्यापारियों को लोड आदि की बात कहकर जालसाजों ने व्यापारी मोहम्मद जुनैद से 1 हजार रुपए, गुड्डू के 13 सौ और पोथीराम के 15 सौ रुपए वसूल लिए. इसकी खबर जैसे व्यापार मंडल के पदाधिकारियों लगी. सभी मौके पर पहुंचे और जालसाजों से आईकार्ड दिखाने के लिए कहा. उनके पास से आईकार्ड नहीं मिला तो व्यापारियों ने उन लोगों को घेर लिया. इसके बाद आठ जालसाज मौका पाकर वहां से खिसक लिए. जबकि चार जालसाज मोहम्मद अतहर निवासी बिहारीपुर, मोहम्मद अकरम निवासी किला, आशीष सक्सेना निवासी मढ़ीनाथ, गौरव कुदेशिया निवासी कुंवरपुर को पकड़ लिया.

व्यापारियों को लौटाए रुपए

इसके बाद व्यापारियों ने इसकी सूचना बिजली विभाग के जेई कमलेशराम को दी. उन्होंने बताया कि यह लोग विभाग के कर्मचारी नहीं है. इसके बाद व्यापारियों ने चारों जालसाज को पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया. जालसाजों ने जिन व्यापारियों से रुपए की वसूली की थी. पकड़े जाने के बाद उन्हें रुपए लौटा दिए.