- बलुआ गोपालपुर में कांड, महिला का परिचित अरेस्ट

- शराब के नशे में गला दबाकर ले ली थी अधेड़ की जान

Gorakhpur@inext.co.in
GORAKHPUR: बांसगांव एरिया के बलुआ गोपालपुर में महिला की हत्या उसके परिचित युवक ने की थी. वह अक्सर महिला के घर आता-जाता था. वारदात की रात वह महिला के घर पहुंचा. गहने-नकदी लूटने के चक्कर में मर्डर करके भाग निकला. रविवार को आरोपी पखनपुर निवासी कुश सिंह को अरेस्ट करके पुलिस ने वारदात का पर्दाफाश किया. एसएसपी शलभ माथुर ने बताया कि अभियुक्त के पास से महिला के गले का लॉकेट, कान का एक जोड़ा टप्स, एक मोबाइल फोन और 22 सौ रुपए नकदी बरामद हुई है.

डॉग स्क्वॉयड से मिला पुलिस सुराग
29 अगस्त को बलुआ गोपालपुर मोहल्ला निवासी मालती देवी की डेड बॉडी उसके कमरे में मिली थी. मर्डर करने वाले बदमाश ने लूटपाट की थी. लूट के इरादे से हत्या की सूचना पर डॉग स्क्वॉयड टीम संग पहुंची पुलिस को किसी परिचित पर शक हुआ. डॉग स्क्वॉयड टीम ट्रेकर लिली ने एक युवक के संबंध में सुराग दिया. जांच पड़ताल में सामने आया कि पखनपुर मोहल्ला निवासी कुश सिंह का महिला के घर आना-जाना था. सर्विलांस की मदद से पुलिस ने जब कुश को ट्रैक किया तो उसकी लोकेशन मिली.

सोई महिला को देख खराब हुई नीयत
यह सामने आया कि वह अक्सर महिला के घर अक्सर आता-जाता था. तलाश में पुलिस उसके घर पहुंची तो वह भाग निकला. रविवार को माल्हनपार कस्बे में सवारी के इंतजार में खड़ा था. तभी बांसगांव के इंस्पेक्टर संतोष कुमार यादव, गगहा थाना प्रभारी सत्य प्रकाश सिंह, एसआई मृत्युंजय राय, संजय सिंह यादव, मदननाथ तिवारी, कांस्टेबल लक्ष्मण सिंह, कांस्टेबल बंशीधर की टीम ने कुश सिंह को दबोच लिया. पूछताछ में सामने आया कि वह महिला का पुराना परिचित था. वह अक्सर महिला के घर आता-जाता था. 29 अगस्त की रात नशे में धुत होकर वह महिला के घर पहुंचा तो वह मच्छरदानी लगाकर सो रही थी. नीयत खराब होने पर वह घर में रखी नकदी और ज्वेलरी लेकर जाने लगा. खटर-पटर सुनकर महिला की नींद खुल गई तो वह शोर मचाने लगी इसलिए उसका गला दबाकर जान ले ली. फिर उसके गले से लॉकेट, कान के टप्स, मोबाइल फोन, आलमारी में रखी तीन हजार रुपए नकदी लेकर भाग निकला.

लूटपाट के लिए महिला की हत्या उसके परिचित युवक ने की थी. आरोपी को गिरफ्तार कर लूट का माल और नकदी बरामद कर ली गई है. आरोपी कुश सिंह का क्रिमिनल रिकॉर्ड खंगाला जा रहा है.

- शलभ माथुर, एसएसपी