HAZIPUR। हाजीपुर-लालगंज मार्ग पर सदर थाना क्षेत्र के मनुआ गांव के समीप पिछले माह बाइक सवार युवती की गोली मारकर हत्या की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है. बार-बार शादी से इनकार करने पर पिता ने ही उसकी हत्या की सुपारी तीन लाख रुपये में दी थी. पुलिस ने पिता समेत पांच लोगों को गिरफ्तार किया है. बीती 24 अप्रैल को बाइक सवार अपराधियों ने घटारो निवासी अशोक सिंह की पुत्री प्रीति रानी की गोली मारकर हत्या कर दी थी. वह हाजीपुर से इलाज करा अपने भाई के साथ घर लौट रही थी. एएसपी ने बताया कि प्रीती के पिता से सख्ती से पूछताछ की गई तो उसने हत्या कराने की बात स्वीकार की.


शादी से कर देती थी इनकार

बताया कि उसने कई बार बेटी की शादी ठीक की, लेकिन हर बार वह शादी से इनकार कर देती थी. पुत्री के इस व्यवहार से वह परेशान था. हत्या के लिए एक अपराधी लालगंज थाना क्षेत्र के सररिया गांव निवासी लालबाबू राय के पुत्र दिलीप राय से तीन लाख में सौदा कर लिया. एएसपी ने बताया कि युवती के पिता ने ही लाइनर की भूमिका निभाई थी. मामले में पकड़े गए अन्य अपराधियों में मुख्य शूटर मुकेश पासवान, भेड़ा पासवान, दिलीप राय एवं जगलाल महतो हैं.