- पितृपक्ष के बाद व्यापारियों में भी जगी उम्मीद

- नवरात्र से शुरू हो जाएगी बाजार में चहलपहल

मेरठ. पितृपक्ष की शुरुआत के साथ बाजार में शुरु हुआ मंदी का दौर गुरुवार यानि 21 सितंबर को पूरी तरह छट जाएगा. गुरुवार से नवरात्रों की शुरुआत हो रही है. इसके लिए मंगलवार से ही बाजारों में खरीदारी शुरु हो गई. हालांकि पितृपक्ष के अंतिम दिन के चलते अधिकतर लोगों ने बाजार से दूरी बनाए रखी लेकिन व्यापारियों को यह पूरी उम्मीद है बुधवार से बाजार की रौनक पूरी तरह वापस लौट आएगी.

वर्जन

6 सितंबर से पितृपक्ष की शुरुआत के साथ ही बाजारों में मंदी छा गई थी. 14 दिन के पितृपक्ष बुधवार को समाप्त हो रहे हैं. इसलिए बुधवार से बाजारों में ग्राहकों की भीड़ उमड़ने की संभावना है.

- अजित सिंह, रिलायंस ट्रेंड गढ़ रोड

व्यापारियों के साथ साथ सभी आम जन को पितृपक्ष की जानकारी रहती है इसलिए सभी ग्राहक इन 14 दिन तक खरीदारी नही करते और व्यापारी भी इसके लिए पहले से ही तैयार रहते है. लेकिन बुधवार से इन 14 दिन के नुकसान की भरपाई हो जाएगी.

- किशोर वाधवा, सेंट्रल मार्केट अध्यक्ष

14 दिन तक नए वाहन की खरीदारी भले ही ना होती हो लेकिन इन दिनों वाहनों की बुकिंग जारी रहती है. इसलिए किसी प्रकार का नुकसान नही होता. बुधवार से वाहनों की डिलीवरी शुरु हो जाएगी.

- भंवर सिंह , बीएम आटोमोबाइल्स

पितृपक्ष के दौरान ट्रांसपोर्ट उद्योग को 25 से 30 लाख रुपए का नुकसान प्रति दिन उठाना पड़ता है. पितृपक्ष के दौरान कई प्रमुख वस्तुओं की आवाजाही बंद हो जाती है. लेकिन उम्मीद है कि बुधवार से ट्रांस्पोर्ट उद्योग वापस पटरी पर लौट आएगा.

- दीपक गांधी, ट्रांसपोर्टर