-एक्साइज वालों से डील कर लीजिए वर्ना जेल चला जाएगा, उसके बाद नहीं मिला दीपक

patna@inext.co.in

PATNA: घर से 20 साल का एक युवक सामान खरीदने के लिए बाजार जाता है और थोड़ी ही देर बाद एक युवक यह संदेश लेकर आता है कि एक्साइज वालों से डीलिंग कर लो नहीं तो समस्या हो जाएगी. घर वालों की सांस अटक जाती है और वह जब पैसे की डीलिंग करने जाते हैं तो बताया जाता है कि अब देर हो गई लड़का कहां है पता नहीं. यह कहानी एक पिता के कंपकपाते मुंह से बाहर निकल रही थी लेकिन उसे सुनने के लिए पुलिस के कोई अफसर नहीं थे. थाने की पुलिस टालमटोल कर रही है और अफसरों से मुलाकात नहीं हो रही है. शनिवार को पीडि़त परिवार दर्जनों ग्रामीणों के साथ एसएसपी ऑफिस पहुंचा तो यहां भी सुनने वाला कोई नहीं था. पुलिस के बड़े अफसर की चौखट से पीडि़त निराश हो लौट गए.

घर से गया था 1 घंटे के लिए

पन्नालाल राघोपुर के सैदाबाद के हैं. उनका बेटा दीपक चाट चाउमीन की दुकान करता है. 27 दिसंबर को सामान लाने निकला था. घरवालों को पता था कि एक घंटे में लौटेगा लेकिन उससे पहले एक लड़का आया और बोला कि दीपक को पुलिस ने शराब के साथ पकड़ लिया है. अगर उसे छुड़ाना है तो 20 हजार रुपए जाकर दीजिए. उसने सुजीत का नंबर दिया और उसे एक्साइज का पदाधिकारी बताया.

नहीं बंद है दीपक का मोबाइल

परिवार वालों का कहना है कि दीपक का मोबाइल बंद नहीं है. लगातार फोन मिला रहे हैं रिंग हो रही है लेकिन कोई उठा नहीं रहा है. इससे परेशानी और बढ़ गई है. परिजनों का कहना है कि पुलिस अगर थोड़ी सी गंभीर हो जाए तो दीपक का सुराग लग जाएगा. आरोप है कि नदी थाना इस मामले में कोई सक्रियता नहीं दिखा रहा है. जब भी परिवार वाले पुलिस के पास जाते हैं बताया जाता है कि पुलिस तलाश कर रही है.

पुलिस से जांच की गुहार, कौन कर रहा था डीलिंग

परिजनों ने बताया कि जब सुजीत के नंबर पर बात किए तो बुलाया गया. जब वहां पहुंचे तो पैसे की बात की गई और कहा गया पैसा दोगे तो चालान कर दिया जाएगा नहीं तो दीपक से कभी नहीं मिल पाओगे. दीपक से मिलने नहीं दिया गया. बताया गया कि दीपक को शराब के साथ पुलिस व एक्साइज विभाग ने पकड़ा है. लेकिन जब पता लगाया गया तो न एक्साइज वाले कुछ बोले और न ही पुलिस कुछ बता रही है. पुलिस जांच भी सही ढंग नहीं कर रही है. दीपक के पिता और पत्नी के साथ मां का बुरा हाल है. सभी अनहोनी की आशंका में जी रहे हैं. उम्मीद थी कि एसएसपी से मिलने के बाद स्थानीय पुलिस पर दबाव बनेगा लेकिन एसएसपी के व्यस्त होने से मुलाकात नहीं हो पाई. परिजनों ने पुलिस अफसरों से जांच करने की मांग की है कि दीपक को किसने पकड़ा है और कौन डीलिंग कर रहा था.