- प्रमुख जगहों पर ड्रोन कैमरों से होगी निगरानी

- तैयारियों में जुटी पुलिस, खींचा सुरक्षा का खाका

द्दह्रक्त्रन्य॥क्कक्त्र: शहर में छठ पूजा को सकुशल संपन्न कराने के लिए पुलिस व्यापक तैयारी में जुटी है. छठ घाटों पर निगरानी के लिए सादे कपड़ों में महिला पुलिस कर्मचारियों की तैनाती की जाएगी. व्रती महिलाओं की तरह परिधानों में सजी महिलाएं छठ घाटों पर मौजूद रहेंगी. सुरक्षा के लिहाज से ड्रोन कैमरों से निगरानी की तैयारी है. एसपी सिटी ने बताया कि सुरक्षा का खाका खींचा जा चुका है. घाटों पर पर्याप्त पुलिस बल की तैनाती की जाएगी. ताकि हर गतिविधि पर नजर रखी जा सके.

एनडीआरएफ और पीएससी रहेगी मौजूद

जिले में छठ पूजा के लिए 50 से अधिक पूजा घाट बनाए जाते हैं. इनमें प्रमुख जगहों पर एनडीआरएफ की टुकड़ी तैनात की जाएगी. शुक्रवार को राप्ती नदी के किनारे एनडीआरएफ ने अपनी तैयारियों को अमली जामा पहनाना शुरू कर दिया था. इसके अलावा पीएससी के जवान भी गोताखोरों संग तैनात किए जाएंगे. इस बार छठ पूजा में अधिक भीड़ उमड़ने की संभावना है. हर साल श्रद्धालुओं की भीड़ बढ़ने की वजह से प्रशासन को तैयारियों में इजाफा करना पड़ रहा है. एनडीआरएफ और पीएसी की मौजूदगी में लोगों को गहरे पानी में उतरने से रोका जाएगा. सभी जगहों पर लाल निशान बनाने की तैयारी भी की जा रही है. ताकि लोग उस बार्डर को पार करके गहरे पानी की आेर न जाएं.

महिला कांस्टेबल रखेंगी पैनी नजर

छठ पूजा के दौरान महिलाओं के साथ चेन स्नेचिंग, ईव-टीजिंग सहित कई घटनाएं होती हैं. इसको रोकने के लिए अलग से प्रबंध किया जाएगा. महिला रिक्रूट्स को तैनात किए जाने की बात सामने आई हैं. महिला पुलिस कर्मचारियों के अलावा अन्य की ड्यूटी छठ व्रतियों के वेश में लगाई जाएगी. इससे वह जहां गोपनीय तरीके से सबकी हरकतों पर निगाह रख सकेंगी. वहीं किसी वारदात में शामिल लोगों को पकड़ने में सहूलियत मिलेगी.

हर जगह कम से कम इतना इंतजाम

सब इंस्पेक्टर 01

कांस्टेबल 04

महिला कांस्टेबल दो

पीएससी जवान

ड्रोन कैमरा

वीडियो कैमरा

सीसीटीवी का इंतजाम

यहां लगेंगे ड्रोन कैमरे

राप्ती नदी, महेसरा ताल, रामगढ़ झील, मानसरोवर

इन क्षेत्रों में इतनी जगहों पर पूजा

कैंट 06

खोराबार 11

तिवारीपुर 05

गोरखनाथ 02

शाहपुर 07

चिलुआताल 03

गुलरिहा 08

अन्य घाट - 06

छठ पूजा को देखते हुए तैयारी की जा रही है. सभी जगहों पर सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध होंगे. किस जगह पर कितनी फोर्स लगाई जाएगी. इसका निर्णय एक-दो दिनों में हो जाएगा. इस बार श्रद्धालुओं की भीड़ बढ़ने की वजह से सुरक्षा भी बढ़ाई जाएगी.

विनय कुमार सिंह, एसपी सिटी