-कहा, लखनऊ से आई टीम ने मलेरिया बुखार की बात मानी

bareilly@inext.co.in

आंवला/बिशारतगंज: वायरल व मलेरिया से लगातार हो रही मौतें से मचे हाहाकार के बाद गुरुवार को मझगवां सीएचसी पहुंचे. सीएमओ डा. विनीत कुमार शुक्ला ने मरीजों का हालचाल जाना उन्होंने पत्रकारों को बताया कि प्रदेश टीम द्वारा इस क्षेत्र का भ्रमण किया गया था. उन्होंने मलेरिया की पुष्टि की है. साथ अधिकारिक रूप से 8 लोगों की मृत्यु का कारण बुखार माना है.

अलर्ट है स्वास्थ्य महकमा

डिस्ट्रिक्ट में जहां भी बुखार की सूचनाएं मिल रही हैं, वहां पर स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया कराने का प्रयास किया जा रहा है. सरकारी व्यवस्थाओं के अलावा प्राइवेट मेडिकल कालेज तथा समाज सेवी संस्थाओं से भी योगदान की अपील की गई है. उन्होनें सीएचसी मझगवां के अलावा विशारतगंज में आयोजित कैम्प का भी निरीक्षण किया.

विधायक पप्पू भरतौल ने भी किया निरीक्षण

विशारतगंज: बिथरी विधायक राजेश कुमार मिश्रा उर्फ पप्पू भरतौल ने कस्वे के पुरानी बाजार में लगे कैम्प में आकर मरीजों से उनके हालचाल पूछा. यहां पर एसआरएमएस व रूहेलखंड मेडिकल कालेज की स्वास्थ्य टीम ने कैम्प लगाया हुआ था. विधायक ने लोगों को आश्वस्त किया कि जब तक क्षेत्र में बुखार का प्रकोप समाप्त नहीं हो जाता तब तक स्वास्थ्य सेवाओं की कमी नहीं होने दी जाएगी. उन्होंने टीम से कहा कि वे उन गावों में भी कैम्प लगाएं, जहां पर बुखार का सर्वाधिक प्रकोप है. उनके साथ चेयरमैन सूरज पाल मौर्य, प्रदीप मित्तल, कुलदीप मौर्य, भानु गोस्वामी, वीरेन्द्र लोधी, सर्वेश , विपुल पटेल आदि रहे.

बुखार से आंवला में एक व भमोरा में दो की मौत

आवंला-भमोरा: क्षेत्र के ग्रामों में अभी भी बुखार का प्रकोप नियंत्रण में नहीं है, आंवला के ग्राम मनौना में गुरूवार को हाईस्कूल की छात्रा निशा पुत्री मुन्त्याज को अचानक तेज बुखार आया, डा. के यहां ले जाते समय उसकी मृत्यु हो गई. ग्राम मनौना में इससे पूर्व कल्यान मौर्य, गफ्फार, खुर्शीदन व गुलपिजा सहित चार की पहले ही मौत हो चुकी है. वहीं भमोरा के ग्राम ख्योराजपुर के रामलाल पुत्र गोकुल तथा सिरौही की कक्षा दस की 15 वर्षीय छात्रा भारती पुत्री महेन्द्र पाल की बुखार से मौत हो गई है.