- बुखार से हो रही मौतों का शासन ने लिया संज्ञान, पहुंचे डीजी हेल्थ

- मंडे को गांवों में कैंप लगाकर लखनऊ की टीम ने की 837 मरीजों की जांच

bareilly@inext.co.in
BAREILLY: जिले में बुखार से हो रही मौतों से शासन तक में खलबली मच गई है. मंडे को लखनऊ से आई टीम ने कई गांवों में कैम्प करके बुखार के मरीजों की जांच की और उन्हें दवाएं देने के साथ ही बुखार से बचने के उपाय भी बताए. वहीं देर शाम शहर पहुंचे डीजी हेल्थ डॉ. पद्माकर सिंह ने सीएमओ से जिले में बुखार के हालात की जानकारी ली. इस दौरान उन्होंने मीडियाकर्मियों से बात भी की. इधर बुखार से मौतों का सिलसिला मंडे को भी जारी रहा. आंवला क्षेत्र में मंडे को 11 और लोगों की बुखार के चलते मौत हो गई, जबकि अलीगंज में 6 लोगों ने दम तोड़ दिया.

जिला अस्पताल में बुखार के मरीजों की संख्या हर दिन बढ़ती ही जा रही है तो दूसरी ओर गांवों मे बुखार से हो रही मौतों का सिलसिला नहीं थम रहा है है. मंडे को आंवला में 11 और अलीगंज में 6 लोगों की बुखार के चलते मौत हो गई. बढ़ती बीमारी को रोकने के लिए लखनऊ से स्वास्थ्य विभाग की टीम भी आ चुकी है. जिसका मेन फोकस सिर्फ ग्रामीण एरिया पर रहेगा.

घर-घर जाकर किया चेक

प्रेस कॉन्फ्रेंस में डीजी हेल्थ ने बताया कि मंडे को गांव में कैंप भी लगाए गए. जिसमें गांव के प्रधान के साथ घर-घर जाकर लोगों का चेकअप किया और लोगों को अवेयर भी किया. स्वास्थ्य विभाग की टीम ने मझगांव, रामनगर, बेहटा बुर्जग आदि में कैंप लगाए, जिसमें 837 मरीजों को देखा गया. 120 स्लाइड भी बनाई गई.

108 पर कॉल भी कर सकते हैं

प्रेस कॉन्फ्रेंस में सीएमओ ने बताया कि किसी भी मरीज को इमरजेंसी है तो वह 108 नंबर पर तत्काल कॉल कर एंबुलेंस भी बुला सकते हैं.

- बुखार होने पर मरीज को तुरंत डॉक्टर के पास लेकर जाएं.

- घर के आसपास कूड़ा इकट्ठा ना करें.

- पानी उबाल कर पियें.

झोलाछाप से न कराएं इलाज

बीमारियों की रोकथाम और उससे बचाव के उपाय बताने के लिए सीएमओ ने मंडे शाम को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस भी की. जिसमें उन्होंने बताया कि यदि किसी भी मरीज को बुखार की शिकायत लगे तो उसे झोलाछाप डॉक्टर्स के पास लेकर न जाएं बल्कि सरकारी अस्पताल में इलाज कराएं.

मौतों का नहीं दे पाए रीजन

डॉक्टर्स से अभी तक हुई मौतों की जानकारी मीडिया ने मांगी तो वे कोई संतुष्ट जवाब नहीं दे सके. उनका कहना था कि जिन लोगों की मौत चेकअप कराने से पहले ही हो गई उनकी मौत के कारण के बारे में कुछ भी कह पाना संभव नहीं है. फिलहाल बुखार के जो भी मरीज आ रहे हैं उनकी जांच करवाकर इलाज किया जा रहा है.

70 से 80 बेड का एक और बनेगा वार्ड

बुखार के मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए डीजी हेल्थ ने महिला अस्पताल के सेकंड फ्लोर पर एक और वार्ड बनाने को कहा. जिसके लिए उन्होंने सीएमओ के स्टोर से बेड भी लिए है. सीएमएस ने बताया कि वार्ड में करीब 70 से 80 बेड डाले जा सकते हैं.

बरेली और बदायूं में बनाइर् 60 टीमें

बुखार के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए सीएम के निर्देश पर बरेली और बदायूं में स्वास्थ्य विभाग की 60 टीमें बनाई गई हैं. इसमें 26 टीमें ब्लॉक स्तर पर और 4 टीमें जिला स्तर पर काम करेंगी. टीमों की निगरानी करने के लिए एक राज्य स्तरीय अधिकारी को जिम्मेदारी दी जाएगी.

दिल्ली की टीम ने की जांच

मंडे को दिल्ली से आई एनसीडीसी के डाक्टरों की तीन सदस्यीय टीम ने ग्राम बेहटा बुजुर्ग जाकर यह जानने का प्रयास किया कि मच्छर पनप कहां से रहे हैं, टीम ने गांव के ओमप्रकाश, राजवीर, आछू यादव व शब्बन के यहां जाकर मच्छरों को पकड़ा. टीम के सदस्य डा. अभय शर्मा ने बताया कि हमने च्च्छरों के अलावा कुछ पानी के नमूने भी लिए है जिसे हम दिल्ली ले जाकर जांच करेगें. टीम में डा.श्वेताभान व डा. एससी शर्मा भी शामिल रहे. दोपहर में सीएमओ डा. विनीत शुक्ला ने भी गांव का दौरा किया उन्होने लोगों से कहा कि आस-पास गड्ढों में पानी न भरने दें तथा सफाई का विशेष ध्यान रखें. सीएचसी प्रभारी डा. वैभव राठौर ने बताया कि मंडे को अतरछेड़ी, मण्डोरा, बेहटा बुजुर्ग तथा मिशन अस्पताल की टीम ने ग्राम कंधरपुर मे कैम्प लगाया तथा गंगाशील अस्पताल की टीम अपनी बस द्वारा जैतपुर गौटिया से 50 मरीजों को अस्पताल ले गई.

आंवला में 11 अौर मौतें

पिछले एक पखवाडे़ से बुखार में तप रहे आंवला क्षेत्र में मौतों का सिलसिला नहीं रुक पा रहा है. मंडे को तहसील क्षेत्र में 11 और लोग बुखार का शिकार हो गए. इस बीच केन्द्र से आई स्वास्थ्य टीम ने ग्राम बेहटा बुजुर्ग से पानी के नमूने लिए तथा मच्छर के लार्वा की जांच की.

अलीगंज में 6 मौतें

आंवला के बाद अब अलीगंज में भी 6 लोगों की बुखार के चलते मौत हो गई. जिसमें अलीगंज में 15 वर्षीय मोहम्मद हसमत खां, 8 वर्षीय तनवीर रजा, वहीं गांव सत्तार नगर के 50 वर्षीय फुलवारी, 4 वर्षीय शनि भी मौत के शिकार हो गए. इसके बाद गांव अंतपुर के बाबू राम, गांव खैलम के जय सिंह की भी बुखार से मृत्यु हो गई.

विशारतगंज मे 4 लोगों की मौत

विशारतगंज में मंडे को बुखार से चार लोगों की मौत हो गई. यहां ग्राम बेहटा बुजुर्ग में लीलावती पत्नी धर्मदास, गोस्वामी ग्राम चुरहा में तारिक की 4 वर्षीय पुत्री कशिश, कस्बे के वार्ड 9 के बबलू शाह (28) व प्रहलादपुर की राममूर्ति देवी (55) की बुखार से मौत हो गई. अकेले ग्राम बेहटा बुजुर्ग में अब तक 13 लोगों की मृत्यु बुखार से हो चुकी है.

भमोरा में भी एक मौत

मंडे को क्षेत्र के ग्राम बल्लिया में नरेश कश्यप की 17 वर्षीय पुत्री ज्ञान देवी की बुखार से मौत हो गई, वहीं सीएचसी भमोरा पर मरीजों की भारी भीड़ रही, यहां मौजूद दो डाक्टरों ने 850 मरीजों को देखने का दावा किया, दवा लेने के लिए लम्बी लाइनें लगी रही तथा अधिक गंभीर होने के कारण कई मरीजों को बरेली रेफर किया गया.