रियलिटी शो 'सबसे स्मार्ट कौन' में इलाहाबाद की सगी बहनों ने जीते 11 लाख

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: जिस उम्र में लोग अपनी पढ़ाई करते हुए सुनहरे भविष्य का ताना बाना बुनते हैं. उस उम्र में अपनी मेहनत के दम पर 11 लाख से अधिक की राशि जीतना हर किसी को अचंभित कर सकता है. इलाहाबाद की दो सगी बहनों 18 वर्षीय निष्ठा और बीस वर्षीय शुभांगी केसरवानी ने टीवी के रियलिटी शो सबसे स्मार्ट कौन में प्रतिभागियों को पछाड़ कर बेहतरीन डांस के बलबूते यह कारनामा कर दिखाया है.

जर्मनी जाने का सपना साकार: निष्ठा

इसी वर्ष खेलगांव पब्लिक स्कूल से इंटर पास करने वाली निष्ठा क्लास सिक्स से ही डांस की ट्रेनिंग ले रही है. उन्होंने बताया कि मेरी मां समय और परिस्थिति के हिसाब से डांस नहीं सीख पाई थीं. उन्होंने मुझे बचपन से ही देश का सबसे बेस्ट डांसर बनने के लिए प्रेरित किया था. उनकी प्रेरणा और दादा जी डॉ. रमा मिश्रा शास्त्री के हर समय सहयोग देने की वजह से यहां तक पहुंच सकी हूं. उन्होंने बताया कि जो इनाम राशि मिली है उससे एक वर्ष के भीतर जर्मनी जाना है. जहां विश्व की सबसे बेस्ट डांसरों की फैकेल्टी के बीच रहकर डांस की ट्रेनिंग लेनी है.

गरीब बच्चों को समर्पित करुंगी राशि : शुभांगी

यूइंग क्रिश्चियन कालेज से एमएससी कर रही शुभांगी केसरवानी के दिल में गरीब बच्चों को शिक्षित करने के साथ ही खुद प्रोफेसर बनने का सपना पल रहा है. उन्होंने बताया कि मलिन बस्तियों में रहने वाले बच्चे पैसे के अभाव में भीख मांगते है. जिसको देखकर मन बहुत खराब हो जाता है. इसलिए जीती हुई राशि से उन गरीब बच्चों की मदद करना है जिनके पास शिक्षा के लिए पैसे नहीं है.

सबसे पहले शहर में डांस एकेडेमी

क्लास सिक्स में पढ़ाई के दौरान डांस की ट्रेनिंग लेने वाली निष्ठा अपनी बड़ी बहन शुभांगी के साथ मिलकर एक डांस एकेडेमी खोलने जा रही हैं. जिसका नाम उन्होंने परिजनों की सहमति से इलाहाबाद डांस एकेडेमी भी रख लिया है. इसका उद्घाटन 21 सितम्बर को होगा. निष्ठा ने बताया कि सबसे पहले जीती हुई राशि से डांस एकेडेमी खोलने जा रही हूं ताकि शहर में डांस का बेस्ट प्लेटफार्म हमारे जैसे मध्यम वर्गीय लोग देख सके.

महत्वपूर्ण तथ्य

-निष्ठा केसरवानी शुआट्स से फिल्म मेकिंग में मास कम्युनिकेशन का कोर्स कर रही हैं

बड़ी बहन यूइंग क्रिश्चियन कालेज से एमएससी जूलाजी में पढ़ाई कर रही हैं

लूकरगंज में रहने वाली दोनों बहनों के पिता ललित केसरवानी एलआईसी के सिविल लाइंस आफिस में एडमिनिस्ट्रेशन आफिसर के पद पर कार्यरत हैं

मां दीपा केसरवानी गृहणी है. एक छोटा भाई दो वर्ष का है