agra@inext.co.in
AGRA : सदर के शहजादी मंडी स्थित बैंक से मंगलवार टप्पेबाज व्यापारी के 50 हजार रुपये ले भागे। सदर के सेवला निवासी फल विक्रेता बिजेंद्र सिंह मंगलवार दोपहर सवा तीन बजे रुपये जमा कराने गए थे। वह बैंक में लाइन में लगे थे। आगे जाने लगे तो पीछे लाइन में लगे युवक ने टोक दिया कि लाइन में आओ। इसके बाद युवक का दूसरा साथी उनके पास पहुंचा और कहने लगा कि रकम अधिक होगी तो जमा नहीं करेंगे। इसलिए गड्डी पर सीरियल नंबर डाल लो। बिजेंद्र के अनुसार वह गड्डी पर नंबर डालने के लिए साथी से पैन लेने बाहर आया।

गड्डी उनके हाथ से लेकर कागज की गड्डी थमा दी

इस बीच शातिर वहां आया और नोट का सीरियल नंबर बताने के जाल में उलझा गड्डी उनके हाथ से लेकर कागज की गड्डी थमा दी। उस पर एक नोट लगा था, अंदर कागज थे। वह कुछ समझते इससे पहले तीनों टप्पेबाज रकम लेकर भाग गए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने बैंक में लगे सीसीटीवी कैमरों के फुटेज भी चेक किए। मगर, उनसे कोई सुराग नहीं मिला। इस मामले की जांच की जा रही है।

फाइनेंसकर्मी हत्याकांड में पुलिस ने इनामी बदमाश दबोचा
उधर, आगरा के फाइनेंसकर्मी हत्याकांड में फरार चल रहे पांच हजार के इनामी बदमाश को हाथरस गेट पुलिस ने मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया। उसके पास से लूट का मोबाइल, तमंचा व दो कारतूस बरामद हुए हैं। इस गिरोह के पांच बदमाश पहले ही जेल जा चुके हैं। तीन सितंबर को हतीसा बाईपास पुल पर आगरा के जगदीशपुरा निवासी सतीश कुमार की हत्या कर दी गई थी।  20 अक्टूबर को हाथरस गेट पुलिस ने पर्दाफाश कर सतीश, नीरज, दिनेश उर्फ पतरा निवासीगण बड़ा नवीपुर हाथरस, इस्लाम निवासी विभव नगर कॉलोनी, हाथरस व अंशुल उर्फ जज निवासी हैवतपुर प्रथा, क्वार्सी, अलीगढ़ को गिरफ्तार किया। विनीत उर्फ कलुआ निवासी नवीपुर फरार था। मंगलवार सुबह उसे भी गिरफ्तार कर लिया गया।

Crime News inextlive from Crime News Desk