मॉस्को (एपी)। रूस के मैग्नीटोगोरसमें में साढ़े तीन पहले यानी कि सोमवार को गैस विस्फोट होने के बाद एक 10 मंजिला इमारत ढह गई थी। रूसी एमर्जेंसी मंत्रालय के अधिकारियों ने गुरुवार को बताया कि इस बिल्डिंग में फंसे सभी लोगों को बाहर निकाल लिया गया है और इसमें अब तक 39 लोगों की मौत हो गई है। अधिकारियों का कहना है कि लोगों की तलाश पूरी होने के बाद बचाव अभियान को भी समाप्त कर दिया गया है। डिप्टी इमर्जेंसी मिनिस्टर अलेक्जेंडर चौप्रियन ने मीडिया से कहा, 'हमने आज आखिरी 39 वीं बॉडी निकाली और हम गारंटी देते हैं कि बिल्डिंग में और लोग नहीं हैं।' बता दें कि रूसी अधिकारी शुरू से ही यह कह रहे थे कि इस घटना के बाद बिल्डिंग में फंसे हुए लोगों को बचाना बहुत मुश्किल है क्योंकि वहां ठंड का पारा माइनस 29 डिग्री सेल्सियस से भी नीचे गिर गया है।
रूस में विस्फोट के बाद 10 मंजिला इमारत ढही : 39 लोगों की मौत,35 घंटे बाद बचाया गया 10 महीने का मासूम
बच्चे की हालत स्थिर

बता दें कि बिल्डिंग गिरने के 35 घंटे बाद बचावकर्मियों ने मंगलवार को इमारत के नीचे फंसे एक 10 महीने के बच्चे को बाहर निकाला था। वह एकमात्र ऐसा व्यक्ति था, जिसे इस हादसे के बाद क्षतिग्रस्त बिल्डिंग में जिंदा पाया गया। रूसी स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया, 'बच्चे को मॉस्को के एक बड़े अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है, डॉक्टरों का कहना है कि उसे काफी चोटें आई हैं और उसकी हालत फिलहाल स्थिर है।' फिलहाल, इस घटना में घायल होने वाले लोगों का पता नहीं चल पाया है।
रूस में विस्फोट के बाद 10 मंजिला इमारत ढही : 39 लोगों की मौत,35 घंटे बाद बचाया गया 10 महीने का मासूम

आज के दिन अलास्का बना था अमेरिका का राज्य, 50 करोड़ में खरीदा था रूस से

International News inextlive from World News Desk