फतेहपुर में तैनाती के दौरान दरोगा पर आय अधिक सम्पत्ति अर्जित करने का आरोप

प्रथम दृष्टया भ्रष्टाचार की आशंका पर सतर्कता अधिष्ठान ने दर्ज करायी FIR

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: थाने का चार्ज मिला तो दोनों हाथों से पैसा बटोरा. भ्रष्टाचार की बदौलत उसने तीन करोड़ से अधिक रूपए मूल्य की प्रापर्टी खड़ी कर ली. लेकिन, पब्लिक के पैसे पर आखिर कब तक करते ऐश, शिकायत हुई तो मामला खुल गया. मामले की जांच सतर्कता अधिष्ठान को सौंपी गई. दरोगा की प्रापर्टी जांच टीम की नजर में चढ़ गई. भ्रष्टाचार का प्रमाण मिलने के बाद सतर्कता अधिष्ठान ने रिटायर हो चुके दरोगा के खिलाफ जार्जटाउन थाने में मामला दर्ज कराया.

जार्जटाउन में रहते हैं

भ्रष्टाचार के आरोप से घिरने वाले दरोगा का नाम दिनेश त्रिपाठी बताया गया है. रिटायर होने के बाद वह वर्तमान समय में जार्जटाउन एरिया में रह रहे हैं. एफआइआर सतर्कता अधिष्ठान के निरीक्षक प्रकाश सिंह की तहरीर पर लिखी गई है. मुकदमा तो थाने में दर्ज हो गया लेकिन इस मामले में कोर्ट में चार्जशीट और गिरफ्तारी दोनों सतर्कता अधिष्ठान की टीम ही करेगी. इसी के चलते थाने की पुलिस इस मामले में कुछ भी बताने को तैयार नहीं हुई.

शासन के आदेश पर जांच

मूलरूप से जौनपुर के रहने वाले दिनेश त्रिपाठी वर्तमान में जार्जटाउन के लिटिल रोड पर रहते है. सर्तकता विभाग की ओर से दर्ज करायी गयी एफआईआर में आरोप है कि फतेहपुर में बतौर उपनिरीक्षक पद पर तैनाती के दौरान दिनेश त्रिपाठी ने आय से अधिक दो करोड़ 73 लाख 19 हजार 276 रुपये अर्जित किए. मामले की शिकायत पर उनके खिलाफ शासन के आदेश पर मुकदमा कायम हुआ है. थानाध्यक्ष जार्जटाउन राजकुमार ने बताया कि मामले की जांच सतर्कता विभाग की ओर से की जा रही है. विवेचना में सच्चाई का पता चलेगा.