आगरा. लग्जरी मोबाइल गायब होने पर नामचीन कोरियर कंपनी फ्रेंचाइजी के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज कराया है. कोरियर कंपनी की ब्रांच संजय प्लेस में स्थापित है. एक्सपोर्ट्र द्वारा दर्ज कराए केस में कंपनी पर चोरी का आरोप लगाया है.

कंपनी से भेजा गया था मोबाइल

गौरव अग्रवाल पीताम्बरा पार्ट्स एक्सपोर्टस, कमला नगर के प्रॉपराइटर हैं. वह नामचीन मोबाइल कंपनी के अधिकृत विक्रेता भी हैं. उन्होने सुब्रत्रा मजूमदार मार्फत सुनील बरन साह रेनवो इंफोटेक, अपोजिट टाटा मोटर्स, सिल्चर, आसाम के लिए एक 32,999 का महंगा मोबाइल 15 फरवरी 2015 को बुक किया था. कोरियर कंपनी के कर्मचारियों की जानकारी में मोबाइल को डिब्बे में सील बंद किया. उस दौरान इनवॉइस काटते समय पता प्रोसेंजीत दत्ता मार्फत चंदन कान्ती डे, म.न. ए-46 बी. निकट ट्रैफिक प्वॉइंट बैंगली-बीएल- लंगली, मिजोरम इंडिया था, जो बाद में सिल्चर का पता अंकित होने पर उक्त पते के लिए कोरियर फ्रेंचाइजी के कर्मचारियों को डिलीवरी के लिए दिया था.

नहीं पहुंचा स्थान पर मोबाइल

शिकायतकर्ता के मुताबिक इसके बाद मोबाइल आज तक दिए गए पते पर नहीं पहुंचा. ना हीं ये कंसाइनमेंट प्रार्थी को वापस किया. कोरियर कंपनी के मालिक व कर्मचारियों से कई बार पूछा. इस पर बताया कि मोबाइल डिलीवरी से पहले कहीं चोरी हो गया. इसकी लिखित सूचना प्रार्थी को नहीं दी गई. पीडि़त ने कोरियर कंपनी मालिक व कर्मचारियों पर एक राय होकर बदनियति से मोबाइल हड़पने का आरोप लगाया. आरोप है कि षडयंत्र के तहत मोबाइल गायब कर दिया. पीडि़त ने अपने वकील द्वारा एक पत्र कोरियर कंपनी के मुख्यालय भिजवाया इसके बाद भी को विधिक सूचना उन्हें नहीं दी गई और न ही मोबाइल की कीमत दी गई. थाने में शिकायत की लेकिन कार्रवाई नहीं हुई. पीडि़त ने अंत में कोर्ट का दरवाजा खटखटाया इसके बाद थाने में मुकदमा लिखा है.