न्रूस्॥श्वष्ठक्कक्त्र : शहर के जेलर हत्याकांड में सजायाफ्ता गैंगस्टर अखिलेश सिंह के खिलाफ पुलिस का शिकंजा कसता जा रहा . उत्तराखंड की राजधानी देहरादून के कोतवाली थाना के बाद मध्य प्रदेश के जबलपुर में भी फर्जीवाड़ा कर फ्लैट और करीब छह आवासीय प्लॉट की खरीद के मामले में अखिलेश सिंह और उसकी पत्‍‌नी गरिमा सिंह के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज किया गया है. सिटी एसपी प्रभात कुमार के नेतृत्व में देहरादून और जबलपुर गई पुलिस टीम कैंप कर रही है.

कई शहरों में फ्लैट-प्लॉट

शहर के बिरसानगर स्थित सृष्टि गार्डेन अपार्टमेंट के फ्लैट संख्या 503 में पुलिस ने 29 मार्च 2017 को छापेमारी की थी. इसमें पुलिस को अचल संपत्ति की खरीदारी के कई दस्तावेज मिले थे. उन दस्तावेजों की पड़ताल करने पर यह जानकारी सामने आई कि अखिलेश सिंह ने अरबों की संपत्ति जबलपुर, देहरादून, रांची, गुडगांव और नोएडा में खरीदी है.

जबलपुर में कहां-कहां खरीदी प्रॉपर्टी

1- मध्य प्रदेश के जबलपुर में छह आवासीय प्लॉट हैं। जिसे संजय सिंह के नाम से अर्जित की गई है। इस फ्लैट को 22 लाख रुपये में अखिलेश सिंह ने संजय सिंह के नाम से दिलीप मेहता और मंजीत कौर से खरीद थी.

2-18 लाख रुपये में जबलपुर में गुरैया घाट इलाके में एक एकड़ जमीन राजकुमार पांडेय और दो अन्य लोगों से संजय सिंह और अन्नू सिंह के नाम से खरीदा है.

3- रंजीत पटेल समेत तीन अन्य से संजय सिंह के नाम से अखिलेश सिंह ने जबलपुर में नीमखेड़ा में छह हजार स्क्वायर फीट जमीन 19 लाख 20 हजार रुपये में खरीदा.

4- जबलपुर के तिल्हारी स्थित रजुल टाउनशीप में 1437 वर्गफीट भूखंड अखिलेश सिंह ने संजय सिंह के नाम से अर्जित की है. खरीददार के स्थान पर अखिलेश सिंह की तस्वीर लगी हुई है, हस्ताक्षर संजय सिंह का है.

ईडी भी अखिलेश की खंगाल रही प्रॉपर्टी

अरबों की संपत्ति का मालिक बन बैठे गैंगस्टर अखिलेश सिंह की अकूत संपत्ति की जांच प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) भी कर रहा है. झारखंड पुलिस ने प्रवर्तन निदेशालय को जानकारी उपलब्ध कराई है कि अपराधों से मिली रकम से जमशेदपुर, रांची के अलावा हरियाणा के गुड़गांव, उत्तर प्रदेश के नोएडा, उत्तराखंड के देहरादून-मसूरी व मध्य प्रदेश के जबलपुर समेत देश के कई शहरों में पिछले 10 वर्षो के दौरान अरबों की संपत्ति बनाया है.