-कुसम्ही जंगल के सूबा बीट में लाद रहे थे लकड़ी

-वन कर्मचारियों पर गोली दागकर फरार हो गए तस्कर

GORAKHPUR: कुसम्ही जंगल के सूबा बीट में लकड़ी बरामद करने गए वन कर्मचारियों पर तस्करों ने गोली दागी. शनिवार तड़के हुई घटना से जंगल के आसपास सनसनी फैली रही. वन कर्मचारियों की तहरीर पर एक आरा मिल मालिक, प्रधान पति और तीन अन्य अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज कर पुलिस जांच में जुटी है. वन कर्मचारियों का आरोप है कि जंगल से कटे पेड़ों की लकड़ी आरा मशीन से चीकर तस्करी की जाती है.

वन कर्मचारियों को देख दागी गोली

शनिवार सुबह जंगल में अवैध कटान कर पेड़ों के बोटे ले जाने की सूचना वन कर्मचारियों को मिली. किसी ने बताया कि सूबा बीट कंपार्टमेंट नौ में प्रेशर ट्राली पर बोटे लादे जा रहे हैं. सूबा बीट के फॉरेस्ट गार्ड राजकरन और वाचर गश्त पर निकले थे. पेड़ लादने की आवाज भांपकर वह मौके पर पहुंचे. आरोप है कि वन कर्मचारियों को देखते ही एक व्यक्ति ने पिस्टल से गोलियां दाग दी. गोली चलने से जंगल के आसपास गांव के लोग सहम गए. लोगों ने समझा कि पुलिस ने किसी बदमाश का एनकाउंटर किया है.

आरा मिल मालिक सहित तीन पर केस

वन कर्मचारियों पर गोली दागकर लकड़ी तस्कर फरार हो गए. फॉरेस्ट गार्ड ने पुलिस को सूचना दी. फोर्स पहुंची तो मौके पर अवैध ढंग से काटे गए साखू के पेड़ के बोटे बरामद हुए. वन कर्मचारियों ने पुलिस को बताया कि आरा मिल मालिक मुन्ना गुप्ता ने गोली चलाई थी. मिल मालिक के खिलाफ हत्या के प्रयास, सरकारी काम में बाधा पहुंचाने सहित कई धाराओं में केस दर्ज कर पुलिस जांच में जुट गई. पुलिस का कहना है कि आरोपी मुन्ना गुप्ता की पत्नी प्रधान हैं. उसके खिलाफ लकड़ी चोरी के कई मामले पहले से दर्ज हैं.

वर्जन

वन कर्मचारियों की सूचना पर मुकदमा दर्ज करके मामले की जांच की जा रही है. जंगल सिकरी निवासी मुन्ना गुप्ता सहित तीन अन्य अज्ञात पर मुकदमा दर्ज किया गया है.

अतुल कुमार सिंह, एसएचओ