-रेस्टोरेंट के सामने कार खड़ी करने को लेकर हुआ विवाद

-बचाने वालों को पीटा कार तोड़ी, चारों दोस्त घायल एक गंभीर

BAREILLY :

बेखौफ बदमाशों ने स्टेशन रोड पुलिस चौकी के सामने संडे आधी रात फायरिंग कर दी, जिससे आसपास हड़कम्प मच गया. विवाद रेस्टोरेंट के सामने कार खड़ी करने को लेकर शुरू हुआ. दबंगों ने कार के शीशे तोड़ दिए. हमले में चार लोग घायल हो गए. एक युवक के सिर पर गंभीर चोटें आई हैं. उसे एक निजी हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया है. हैरानी की बात यह है करीब दस पांच से सात मिनट तक मारपीट और एक फायर हुआ, लेकिन पुलिस चौकी से बाहर नहीं निकली. बदमाश वारदात को अंजाम देकर जब भाग निकले तब पुलिस मौके पर पहुंची.

वीडियो से पहचाने जाएंगे हमलावर

प्रेमनगर थाना के कॉलोनी जनकपुरी के रहने वाले प्रियंक मूना देर रात अपने दोस्त राहुल साहनी निवासी जनकपुरी, आकाश पटेल निवासी पवन विहार और कृपालगंज के रहने वाले मानस छाबड़ा के साथ स्टेशन रोड स्थित सपा नेता के स्वाद रेस्टोरेंट में खाना खाने गए थे. जैसे ही उन्होंने रेस्टोरेंट के सामने कार खड़ी की तो वहां पहले से बैठे कुछ लोगों ने कार खड़ी करने पर ऐतराज कर दिया. कहासुनी होने पर एकबारगी पुलिस पहुंची तो विवाद टल गया.

दोबारा लौट आए बदमाश

पुलिस के बीच बचाव के बाद कार सवार रेस्टोरेंट में खाना खाने लगे. इस बीच बदमाश 8-10 की संख्या में लोहे की रॉड, तमंचा व डंडे लेकर फिर धमक पड़े और खाना खा रहे चारों दोस्तों पर अटैक कर दिया. हमलावरों ने देखते ही देखते चारों दोस्तों को बेरहमी से पीटकर घायल कर दिया. आसपास के लोग बीच-बचाव कराने पहुंचे तो हमलावरों ने उन्हें भी पकड़ लिया. दहशत फैलाने के लिए फायरिंग कर दी. इस बीच आरोपियों ने प्रियंक मूना की होंडा सिटी कार के शीशे तोड़ दिए.

एक दिन पहले जेल से छूटा था बदमाश

हमलावरों कार सवार चार दोस्तों से मारपीट कर रहे थे. इसी दौरान वहां मौजूद किसी शख्स ने पूरी घटना का मोबाइल से वीडियो बना लिया. उसने वह वीडियो पुलिस को सौंप दी. पुलिस को वीडियो में मारपीट करने वालों के चेहरे साफ दिखाई दिए तो पुलिस ने बिहारीपुर निवासी दीपू और राजू उर्फ शहनवाज को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने दोनों आरोपियों को सोमवार के लिए जेल भेज दिया है. पुलिस ने बताया कि दीपू हिस्ट्रीशीटर अंकित यादव का भाई है. 25 अगस्त को दीपू और अंकित यादव ने अपने साथियों के साथ पेशी पर आए बंदी के साथ लॉकअप में मारपीट की थी. उसी दिन दीपू जमानत पर जेल से छूटा था.

सड़क पर चल रहा रेस्टोरेंट

स्वाद रेस्टोरेंट को अतिक्रमण हटाओ अभियान के दौरान शॉप की दहलीज में समेट दिया गया था, लेकिन रेस्टोरेंट ओनर ने अतिक्रमण हटाओ अभियान को चुनौती देते हुए सड़क तक दोबारा दुकान सजा ली. जिसके चलते खाना खाने आने वाले कस्टमर अपने वाहन सड़क पर खड़ा करते हैं. कई बार यह वाहन जाम की वजह भी बनते हैं. इसको लेकर अक्सर झगड़े भी होते हैं. हैरानी की बात है कि कोतवाली पुलिस रेस्टोरेंट के दोबारा किए गए अतिक्रमण के बाद भी कार्रवाई नीं की.

हमलावरों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है. वीडियो क्लीपिंग से दो आरोपियों की शिनाख्त कर पकड़ कर जेल भेज दिया गया है. बाकी आरोपियों की तलाश में पुलिस दबिश दे रही है. जल्द ही बाकी आरोपी भी गिरफ्तार कर लिए जाएंगे.

गीतेश कपिल, एसएचओ कोतवाली

जंक्शन रोड पर स्वाद रेस्टोरेंट के बाहर खाना खाने पहुंचे कार सवारों का कुछ लोगों से विवाद हो गया था. जिसकी तहरीर के आधार पर केस दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है.

अभिनंदन सिंह, एसपी सिटी