अरवल में हुई वारदात , भड़के व्यापारियों ने एनएच जामकर की आगजनी

श्चड्डह्लठ्ठड्ड@द्बठ्ठद्ग3ह्ल.ष्श्र.द्बठ्ठ

छ्वश्व॥न्हृन्क्चन्ष्ठ/क्कन्ञ्जहृन्: पटना-औरंगाबाद राष्ट्रीय राजमार्ग पर महेंदिया थाना क्षेत्र अंतर्गत पहलेजा बाजार में शनिवार की रात चोरों ने दो रात्रि प्रहरियों की गला दबाकर हत्या कर दी. इसके बाद बाद अपराधियों ने एक दवा दुकान का ताला तोड़कर चार लाख कैश समेत पांच लाख की संपत्ति लूट ली. रविवार को सुबह जब दवा

व्यवसायी हरेराम कुमार दुकान पहुंचे तो शटर टूटा पाया. वहीं दोनों रात्रि प्रहरी जयबिगहा गांव निवासी मधेश्वर यादव तथा अखिलेश राजवंशी मृत पड़े थे. इसकी सूचना फैलते ही बाजार के व्यवसायी आक्रोशित हो गए और एनएच-जाम कर आगजनी की और पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की.

घटनास्थल पर पहुंचे एसपी

व्यापारियों का कहना था कि बाजार में लगातार चोरी हो रही है, लेकिन पुलिस उदासीन है. भीड़ के उग्र तेवर देख थानाध्यक्ष स्वराज कुमार मूकदर्शक बन खड़े रहे. व्यापारी वरीय अधिकारियों को बुलाने की मांग पर अड़े थे. एसडीपीओ शैलेंद्र कुमार ने लोगों को शांत कराने का प्रयास किया, लेकिन लोग नहीं माने. इसके बाद एसपी उमाशंकर प्रसाद को बुलाया गया. उन्होंने दोषी पुलिस अधिकारियों के विरुद्ध कार्रवाई का आश्वासन दिया. मौके पर ही रात में गश्त कर रहे जवानों से स्पष्टीकरण मांगा और कहा कि संतोषजनक जवाब नहीं मिलने पर कार्रवाई की जाएगी. इसके बाद व्यापारी शांत हुए. उन्होंने रात्रि प्रहरियों के परिजनों को मुआवजा तथा नौकरी देने की मांग की. प्रशासन ने पारिवारिक लाभ योजना के तहत 20 हजार रुपये, दुर्घटना बीमा योजना के तहत एक लाख और प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ देने का आश्वासन दिया.

रात में घूमते हुए दिखे थे चार संदिग्ध

ज्ञात हो कि खुशडिहरा निवासी हरेराम कुमार की पहलेजा मार्केट में दवा दुकान है. रात में दुकान बंद कर गांव चले गए. रविवार सुबह जब दुकान पहुंचे तो ताले टूटे मिले. पहले लगा कि रात में दुकान बंद करने में चूक हो गई है लेकिन जब दोनों प्रहरियों को मृत देखा तो दुकान में चोरी का अहसास हुआ. बाजार के आसपास रहने वालों के अनुसार उन्होंने रात में चार लोगों को घूमते देखा था. पुलिस जांच में जुटी है.