ranchi@inext.co.in
RANCHI: मांडर थाना क्षेत्र स्थित केशकानी में अजय थापा पर हुई गोलीबारी के मामले में पांच आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. इनमें कुख्यात बिट्टू मिश्रा, संतोष पांडेय, संजय पांडेय, ओमप्रकाश राय और एकलव्य कुमार शामिल हैं. इनके पास से पुलिस ने गोली मारने के लिए इस्तेमाल पिस्टल, दो जिंदा गोली, मैगजीन, खोखा और मोबाइल बरामद किया है. एसएसपी अनीश गुप्ता ने कहा कि अजय थापा को आपसी विवाद में गोली मारी गई है. संतोष पांडेय ने साजिश के तहत ड्राइवर एकलव्य से अजय को गोली मरवा दी है. पांचों आरोपी मेडिका अस्पताल से पकड़ गए हैं. छापेमारी टीम में मांडर थाना प्रभारी सतीश कुमार गोराई, एसआई अरुण कुमार तुरी, रिशाकांत सिन्हा समेत कई पुलिस कर्मी शामिल थे.

पूछताछ में हुआ खुलासा
एसएसपी ने बताया कि अजय थापा को गोली मारने के बाद इलाज के लिए रिम्स ले गए थे. इसके बाद रिम्स से बेहतर इलाज के लिए मेडिका अस्पताल ले गए थे. पुलिस ने शक के आधार पर संतोष पांडेय समेत पांचों आरोपियों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया. इसके बाद पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की, तो संतोष ने पूरे मामले का उद्भेदन कर दिया. फिर घटना में इस्तेमाल हथियार संतोष की निशानदेही पर पुलिस ने बरामद कर ली.

पैसा जमीन में लगाता है संतोष
एसएसपी ने बताया कि कुख्यात अपराधी बिट्टू मिश्रा अवैध तरीके से अर्जित पैसा जमीन में लगा रहा है. संतोष पांडेय इस पैसे को अपने कारोबार के जरिए जमीन में लगा रहा है. वर्तमान में संतोष पांडेय और बिट्टू मिश्रा एक साथ मिलकर जमीन का कारोबार कर रहे हैं.

बिट्टू मिश्रा ने बनाई करोड़ों की संपत्ति
अनीश गुप्ता ने कहा कि कुख्यात अपराधी बिट्टू मिश्रा की अवैध संपत्ति की जांच के लिए ईडी से शिकायत की जाएगी. ईडी जांच के बाद पूरी संपत्ति को जब्त किया जाएगा. इससे पूर्व कहा कि कुख्यात अपराधी ने अवैध तरीके से करोड़ों की संपत्ति अर्जित की है. इसके अलावा कई अवैध कारोबार कर रहा है. बिट्टू के खिलाफ आधा दर्जन से ज्यादा मामले दर्ज हैं. इसमें रंगदारी, हत्या समेत कई अन्य मामले शामिल हैं.