-अलग-अलग क्षेत्रों में युवती, छात्र समेत पांच लोगों ने किया सुसाइड

KANPUR : शनिवार का दिन आत्महत्याओं के मामले में काला दिन रहा. अलग-अलग क्षेत्रों पांच लोगों ने जिंदगी से हार मान ली और मौत को गले लगा लिया. कहीं शराब कारण बनी तो कहीं घरेलू कलह ने आत्महत्या करने पर मजबूर कर दिया. पुलिस ने सभी शवों को पोस्टमार्टम भेज दिया.

छात्र झूल गया फांसी पर

गुजैनी में शनिवार को इंटर के छात्र अमित ने फांसी लगाकर जान दे दी. वह जी ब्लाक निवासी कृष्ण कुमार का बेटा था. वह चाचा नेहरू इंटर कालेज का छात्र था. वह दोपहर में स्कूल से घर आया सीधे अपने कमरे में चला गया. मां उसको बुलाने कमरे में गई. वहां पर उसका शव फंदे पर लटका था. जिसे देख चीख पड़ी. परिजन उसको फंदे से उतारकर नर्सिगहोम ले गए. वहां उसको मृत घोषित कर दिया गया. इंस्पेक्टर का कहना है कि उसके खुदकुशी का कारण अभी पता नहीं चला है.

घरेलू कलह में खुदकुशी की

कल्याणपुर में सब्जी विक्रेता धीरू कश्यप (38) ने फांसी लगाकर जान दे दी. वह बारासिरोही निवासी था. परिवार में पत्नी जयंती और दो बच्चे है. जयंती रक्षाबंधन पर बच्चों के साथ मायके गई थी. शनिवार सुबह भाई विवेक कुमार धीरू के घर पहुंचा तो वहां पर धीरू का शव फंदे पर लटका था. बताया जा रहा है कि धीरू ने घरेलू कलह में यह कदम उठाया है.

परेशान होकर युवती ने जान दी

बिधनू में शनिवार को रूबी (23) ने सुसाइड कर लिया. वह शाहपुर निवासी मान सिंह की बेटी थी. परिवार में भाई वीरेंद्र है. रूबी सिलाई का काम करती थी. वह कई दिनों से परेशान चल रही थी. परिजनों को भी उसने कुछ नहीं बताया. वह रात को खाना खाने के बाद सो गई थी. सुबह भाई वीरेंद्र ने देखा कि उसका शव फांसी पर लटका था.

पेड़ पर लटका मिला युवक का शव

महाराजपुर में शुक्रवार रात अतर सिंह (40) ने फांसी लगाकर जान दे दी. वह हाथीपुर गांव का निवासी था. परिवार में पिता राम स्वरूप, मां शिव प्यारी, तीन भाई और चार बहन है. अतर शराब का लती था. जिसकी वजह से घरवालों से झगड़ा होता था. इसीके चलते उसने खुदकुशी कर ली. उसका शव गांव के बाहर एक पेड़ पर लटका मिला.

शराब की लत ने ली जिंदगी

कल्याणपुर में दीपक यादव (24) ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली. वह बरसायतपुर निवासी था. उसके पिता की मौत हो चुकी है. परिवार में मां शिवदेवी, छह भाई और दो बहन है. वह शराब का लती था. जिसे लेकर परिजनों से उसकी अक्सर कहासुनी होती थी. जिसके चलते उसने जान दे दी. उसकी मौत से घर में मातम पसर गया.