- विधायक के निधन से पूरा शहर डूबा शोक में

agra@inext.co.in
AGRA:
चुनाव से ठीक पहले भाजपा को बड़ा झटका लगा। पांच बार से विधायक जगन प्रसाद गर्ग का बुधवार को हार्ट अटैक से निधन हो गया। खबर जंगल में आग की तरह पूरे शहर में फैल गई। समर्थकों ने उनके निवास की ओर दौड़ लगा दी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी उन्हें श्रद्धांजलि देने पहुंचे। शोकाकुल परिवार को उन्होंने ढांढस बंधाया।

गौतम जी सुनते हो पापा जी को कुछ हो गया
विधायक जगन प्रसाद गर्ग बुधवार दोपहर आवास विकास से चुनाव प्रचार कर करीब 2.30 बजे घर लौटे थे। उन्होंने सुरक्षा में तैनात सुरेंद्र गौतम व अन्य से कहा कि मैं खाना खा लेता हूं। इसके बाद आराम करूंगा। शाम को पांच बजे फिर से लोकसभा प्रत्याशी प्रो। एसपी सिंह बघेल के लिए प्रचार के लिए निकलेंगे। यह कहते हुए वे अंदर घर चले गए। थोड़ी देर बाद उनके बेटे वैभव की पत्नी सुखांशी की आवाज आती है कि गौतमजी पापा जी को कुछ हो गया है। जल्दी ऊपर आओ। उनके सुरक्षा में तैनात सुरेंद्र गौतम और अन्य सुरक्षाकर्मी दौड़कर ऊपर पहुंचे। वहां उनकी पत्नी लक्ष्मी बेटा वैभव और वैभव की पत्‍‌नी सुखांशी पहले से मौजूद थे। तत्काल उन्हें पुष्पांजलि और डॉक्टर समीर गुप्ता के पास ले जाया गया, वहां से उन्हें रेफर कर दिया गया। इसके बाद उन्हें इमरजेंसी एसएन मेडिकल कॉलेज ले जाया गया, वहां डाक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

खांसी आई थी
जब खाना खाने बैठे थे, उसी समय उन्हें खासी आई। इसके बाद उनकी तबियत अचानक बिगड़ गए। उनके हाथ पैरों ने काम करना बंद कर दिया। बेहोशी की हालत में वे लेट गए। यह देखकर उनके पास मौजूद पत्नी बेटे और पुत्रवधू घबरा गए। आनन फानन में उन्हें अस्पताल ले जाया गया। जहां डाक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

थोड़ा बुखार था
उनके सुरक्षा कर्मी सुरेंद्र गौतम ने बताया कि उनकी तबियत थोड़ी खराब चल रही थी। उन्हें हलका बुखार था। लेकिन वे लगातार चुनाव प्रचार में जुटे हुए थे। दोपहर को प्रचार कर ही घर खाना खाने लौटे थे। इसके बाद शाम को फिर से प्रचार के लिए जाना था। लेकिन ऐसा न हो सका।

पांच बार रहे हैं विधायक
जगन प्रसाद गर्ग सबसे पहले आगरा पूर्वी विधानसभा से वर्ष 1998 में विधायक चुने गए थे। तब से लगातार पांचवी बार विधायक चुने गए। अब इस विधानसभा का नाम उत्तर विधानसभा है।