फूड विभाग करेगा लोगों, दुकानदार, स्कूली बच्चों को मिलावट व हाईजीन के प्रति शिक्षित

दुकानदारों को फूड एक्ट के बारे में देगा जानकारी

Meerut. मिलावटी दूध, मिठाई व अन्य खाद्य पदार्थो से लोगों को मुक्ति दिलाने के लिए फूड विभाग ने नया तरीका निकाला है. अब फूड विभाग की टीम खुद लोगों को मिलावट के बारे में जागरुक करेगी. ईट हेल्दी मूवमेंट के जरिए टीम के लोग स्कूलों में जाकर बच्चों का मिलावट पकड़ने का लाइव डेमो दिखाएंगे. साथ ही दुकानदारों, कैंटीन व कई सरकारी विभागों में हाईजीन का पाठ भी पढ़ाया जाएगा.

आवासीय स्कूलों में अभियान

इंर्फोमेशन एजुकेशन कम्यूनिकेशन नाम से चलने वाले इस अभियान के तहत विभाग की टीम आवासीय स्कूल जैसे कस्तूरबा गांधी, बाल संप्रेषण गृहों, नारी निकेतन, कारागार आदि में लोगों को हेल्दी फूड हेबिट्स के बारें में जानकारी देंगी. साथ ही रसोई में साफ-सफाई की जरूरत के बारे में भी बताया जाएगा. इसके अलावा खाद्य पदार्थो के रख-रखाव के बारे में भी विशेष जानकारी दी जाएगी. बच्चों को हाथ धोने की विधि, खाना बनाने व खाने के दौरान बालों का बांधना, बर्तन धोना, बर्तनों की साफ-सफाई आदि के बारे में भी पूरी जानकारी दी जाएगी. जिससे बच्चे छोटे-छोट टिप्स फॉलों कर खुद का स्वस्थ रख सकें. वहीं यहां से सर्विलेंस सैंपल यानि संदेह के आधार पर सैंपल भी कलेक्ट किए जाएंगे.

दुकानदारों होंगे जागरूक

इस अभियान के तहत खाद्य पदार्थो की बिक्री कर रहे सभी दुकानदारों को फूड एक्ट व नियमावली के बारे में पूरी तरह से जागरूक किया जाएगा. इसके तहत दुकानदारों को मिलावट के नुकसान के साथ ही होने वाले कार्रवाई के प्रति भी जागरूक

लोगों को अगर खुद मिलावट के बारे में जानकारी होगी तो काफी हद तक मिलावट को रोका जा सकता है. वहीं हाईजीन की जानकारी भी बेहद जरूरी है. इसी को ध्यान में रखकर यह योजना तैयार की गई है. इस पर काम शुरू किया जा रहा है.

अर्चना धीरान, डीओ, खाद्य विभाग, मेरठ