- उपकरणों के अभाव में बेहतर प्रदर्शन से पिछड़ रहे खिलाड़ी

आगरा. शहर में फुटबॉल को लेकर सरकारी संस्थाएं उदासीन हैं. एकलव्य स्पो‌र्ट्स स्टेडियम में खिलाडि़यों को किट तक नहीं दी जा रही है. एसोसिएशन द्वारा दिए जा रहे संसाधनों पर ही खिलाडि़यों की प्रैक्टिस निर्भर रहती है. जबकि दूसरे राज्यों में फुटबॉलर्स को अधिक सुविधाएं मुहैया कराई जा रही हैं.

ग्राउंड तक नहीं उपलब्ध

एकलव्य स्पो‌र्ट्स स्टेडियम में फुटबॉल के लिए बेहतर संसाधन नहीं हैं. उन्हें ग्राउंड में बिना उपकरण के ही प्रैक्टिस करनी पड़ती है. एक ओर जहां संबंधित अधिकारी अपनी जिम्मेदारी से पल्ला झाड़ रहे हैं, वहीं एसोसिएशन के पदाधिकारियों द्वारा खिलाडि़यों के लिए किट मुहैया कराई जाती है. लेकिन, यह किट उन्हीं खिलाडि़यों को मिलती है जिनका सिलेक्शन राज्य या स्टेट लेवल पर हुआ हो. अ

उपकरणों का रहता है अभाव

स्टेडियम में जब खिलाड़ी अपना रजिस्ट्रेशन कराते हैं, तो उन्हें इस बात की जानकारी पहले से ही दी जाती है कि वह अपनी किट स्वयं लेकर आएं. इनमें कुछ खिलाड़ी जो सम्पन्न परिवार से होते हैं, वह किट खरीद लेते हैं. अधिकतर खिलाड़ी बिना उपकरणों के ग्राउंड में प्रैक्टिस करते हैं, इससे कभी-कभी वह चोटिल हो जाते हैं. नेशनल खिलाड़ी कोमल का कहना है कि इन सभी अव्यवस्थाओं के बाद भी खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन करते हैं.