LUDHIYANA : यहां होटल मैनेजमेंट और एयरलाइंस टूर एंड ट्रेवल होटल मैनेजमेंट के 300 विद्यार्थियों ने नौ मिनट 10 सेकंड में 1241 किस्म के पराठे तैयार कर दिए।इसके लिए विद्यार्थियों ने 43 देशों के प्रसिद्ध सामान का इस्तेमाल किया। दो दिन पहले विद्यार्थियों ने अपने टास्क अनुसार पराठों में इस्तेमाल होने वाला मिश्रण तैयार कर लिया था। इस इवेंट का नाम रखा गया था 'भारत की खोज, पराठा भोज'।

रॉक साल्ट और अनारदाना पराठा

विभिन्न किस्म के पराठों में लेमन ग्रास ब्लैक सॉल्ट, गुलकंद और स्टार एइस, रॉक साल्ट और अनारदाना, पैपरिका प्लस रॉक साल्ट, एग सीसेम, एग ग्रीन चिल्ली, एग आलमंड, एग सनफ्लार सीड्स, पनीर वाइट पेपर, ढोकला पराठा, लेवेंडर पराठा आदि प्रमुख रहे।

छह महीने की रिसर्च
शेफ संजीव वर्मा और विश्वजीत बाली के अनुसार इस आइडिया के रिसर्च वर्क के लिए पांच से छह महीने लगे। इसमें चिकन, मटन, फिश, फ्रूट्स, स्वीट्स, अंडे, मसाले, साठ से सत्तर तरह की हब्र्स, नट्स, दालें और मैक्सिकन, फ्रेंच, इटालियन पिज्जा, चाइनीज की विभिन्न वस्तुओं का इस्तेमाल किया गया। विद्यार्थियों को 90 तवे दिए गए। एक तवे पर चार पराठे बने। वहीं दस बड़े तवे व बारह ओवन मंगवाए गए, जिसमें सोलह पराठे एक साथ तैयार हुए।

National News inextlive from India News Desk