BAREILLY: सरकारी आदेश के बाद भी अभी तक अधिकृत बैंकों में आधार कार्ड बनने शुरू नहीं हुए हैं. इससे दूर-दराज से नया खाता खुलवाने ब्रांच आ रहे लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. किसी बैंक में स्टाफ की कमी तो किसी में सेटअप की कमी के चलते आधार फीडिंग का कार्य प्रभावित रहा. लेकिन अब ऐसे बैंक की खैर नहीं, जिन बैंक ने अपनी ब्रांच में अभी तक आधार कार्ड बनाए जाने की प्रक्रिया शुरू नहीं की है, अब आरबीआई उनसे 2 हजार रुपए परडे के हिसाब से पेनॉल्टी वसूल करेगी.

सरकार ने बंद करवा दिए थे प्राइवेट सेंटर्स

पब्लिक को राहत देते हुए सेंट्रल गवर्नमेंट ने आदेश जारी करते हुए कहा था कि अब आधार नम्बर बैंक में ही बनाए जाएंगे. सेंट्रल गवर्नमेंट के इस फैसले के बाद यूनिक आईडेंटीफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने सभी प्राइवेट सेंटर्स पर आधार कार्ड बनाए जाने पर रोक लगा दी. अब इन सेंटर्स पर आधार नहीं बनाए जा रहे हैं. सिर्फ आधार को अपडेट और डुप्लीकेट आधार ही बनाए जा रहे हैं. प्राइवेट सेंटर्स में आधार बनना बंद तो हो गए, लेकिन सभी बैंक में यह व्यवस्था अभी तक शुरू ही नहीं हो सकी है.

कुछ बैंक में ही शुरू हो सकी है व्यवस्था

शहर में 22 सरकारी और निजी बैंक हैं. इनकी 150 से अधिक ब्रांच रन कर रही हैं. लेकिन केनरा, एसबीआई, बीओबी और यूनियन बैंक के कुछ ब्रांच में ही आधार बनाने की प्रक्रिया शुरू हो सकती है. जबकि, आरबीआई ने यह बात कही थी कि बैंक यदि अपने सभी ब्रांच में आधार कार्ड बनाने की व्यवस्था नहीं कर पाते हैं, तो जिनके 10 से अधिक ब्रांच हैं वह कम से कम एक ब्रांच में आधार बनाने की सर्विस जरूर शुरू करें. लेकिन बैंक प्रबंधन की लापरवाही के कारण मैक्सिमम ब्रांच में आधार बनाने जाने का सेटअप नहीं लगा है.

आरबीआई लगाएगा पेनॉल्टी

ऐसे ब्रांच के खिलाफ आरबीआई अब पेनॉल्टी लगाने की तैयारी में हैं. बैंक अधिकारियों ने बताया कि आरबीआई ने एक गाइडलाइन जारी की है. जिसमें उसने कहा कि जिस भी ब्रांच में आधार बनाने के सेटअप नहीं लगाए हैं, उनके ऊपर पेनॉल्टी लगाई जाएगी. 2 हजार रुपए प्रतिद‍िन के हिसाब से पेनॉल्टी लगाई जाएगी.

बैंक अकाउंट के लिए भी आधार अनिवार्य

जबकि, यह व्यवस्था पब्लिक को राहत देने के लिए शुरू की गई थी. क्योंकि, प्रत्येक एरिया में किसी न किसी बैंक के ब्रांच हैं. ऐसे में लोगों को आधार कार्ड बनवाने के लिए कहीं दूर नहीं जाना पड़ेगा. वहीं बैंक में भी खाता खुलवाने के लिए आधार कार्ड और पैन कार्ड अनिवार्य कर दिया गया है. आरबीआई ने 22 अप्रैल 2018 को इस संबंध में सभी बैंक को एक गाइडलाइन भी जारी किया है.

आधार कार्ड के लिए डॉक्यूमेंट

- फोटो आईडी और एड्रेस प्रूफ.

- पहली बार आधार बनवाना है निशुल्क.

- 30 रुपए आधार कार्ड में किसी प्रकार के संशोधन का है.

फैक्टस एंड फिगर्स

- 22 बैंक शहर में हैं.

- 17 सरकारी और 5 प्राइवेट बैंक.

- 150 से अधिक ब्रांच.

- 100 से अधिक ब्रांच में नहीं बन रहे आधार.

- केनरा, एसबीआई, बीओबी और यूनियन बैंक के ही कुछ ब्रांच में शुरू हो सकी है आधार बनाने की सुविधा.

अब नया खाता खुलवा रहे लोगों के लिए आधार कम्पल्सरी कर दिया गया है. जिन ब्रांच में आधार कार्ड बनाने की व्यवस्था अभी तक शुरू नहीं हुई हैं उन पर पेनॉल्टी लगाने की बात आरबीआई ने कही है.

संजीव मेहरोत्रा, बैंकर

इस समय सबसे अधिक आधार कार्ड अपडेशन और करेक्शन का काम हो रहा है. रोजाना 50 से अधिक लोग सेंटर पा आ रहे हैं. यदि, सरकारी विभागों में आधार बनने लगे तो सेंटर पर लोड कम जाए.

राजीव कालरा, सुपरवाइजर, आधार कार्ड सेंटर, तहसील

Business News inextlive from Business News Desk