jamshedpur@inext.co.in

JAMSHEDPUR: रक्षाबंधन के दिन सोमवार को मेहंदी रचाकर स्कूल पहुंचीं 90 छात्राओं का निलंबन राजेंद्र विद्यालय प्रबंधन ने वापस ले लिया है. बुधवार से सभी छात्राएं क्लास कर सकेंगी. हालांकि, उन्हें अपने अभिभावकों के साथ स्कूल पहुंचना होगा और क्लास में शामिल होने से पहले विद्यालय प्रशासन से मुलाकात करनी होगी.

छात्राओं को स्कूल प्रबंधन द्वारा अनुशासनात्मक कार्रवाई कर निलंबित किए जाने के मामले में आपत्ति दर्ज कराते हुए शिक्षा सत्याग्रह के शिष्टमंडल ने स्कूल की प्राचार्य राखी बनर्जी से मंगलवार को मुलाकात की. इस दौरान छात्राओं के निलंबन वापस लेने तथा भविष्य में जनभावनाओं और आस्था का सम्मान करते हुए पर्व-त्योहारों पर छात्र-छात्राओं पर अनुशासनात्मक कार्रवाई नहीं करने की बात रखी गई. इस दौरान स्कूल प्रबंधन के सचिव सीपीएन सिंह भी मौजूद थे. प्रबंधन की ओर से त्वरित निलंबन वापस लेते हुए भविष्य में धार्मिक भावनाओं का सम्मान रखते हुए कार्रवाई नहीं करने का आश्वासन दिया गया. साथ ही कहा गया कि निलंबित छात्राएं बुधवार से ही अपने अभिभावकों के संग स्कूल आ सकती हैं. अभिभावक कक्षा अध्यापक से मिलकर वार्ता करें ताकि भविष्य में ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति न हो. इस दौरान शिक्षा सत्याग्रह के शिष्टमंडल में अंकित आनंद, अप्पू तिवारी, उमाशंकर सिंह, ऋषभ सिंह, सौरव सिंह मौजूद थे.

स्कूल मैनेजमेंट से मिला
मेहंदी लगाने के बाद छात्राओं के सस्पेंड होने के मामले में विश्व ¨हदू परिषद का एक प्रतिनिधिमंडल भी स्कूल प्रबंधन से मिला तथा अपनी बातों को रखा. स्कूल प्रबंधन से छात्राओं का निलंबन वापस लेने की मांग की. इस मौके पर विहिप सिंहभूम विभाग के सह मंत्री संजय चौरसिया, जमशेदपुर महानगर के अध्यक्ष अवतार सिंह गांधी, मंत्री जनार्दन पांडेय, सह मंत्री चंदन चौबे, दीपक वर्मा, धर्माचार्य संपर्क प्रमुख जमुना दुबे, सेवा प्रमुख संतोष वर्मा, एवं प्रचार प्रमुख सुभाष चटर्जी उपस्थित थे.