आपकी खुशबू पहचान लेगा आपका फोन
स्मार्टफोन्‍स और तमाम डिजिटल डिवाइसेस को अनलॉक करने के लिए फिंगर प्रिंट सेंसर और फेस डिटेक्शन टेक्नोलॉजी को आए हुए काफी अरसा हो गया है। वैसे तो यूजर इससे काफी खुश हैं लेकिन आजकल इतने सेक्‍योर फीचर्स को भी कुछ लोग आसानी से तोड़कर स्‍मार्टफोन का डेटा चुरा लेते हैं। इन सभी सेक्‍योरिटी प्रॉब्‍लम्‍स का तोड़ बहतु जल्‍दी ही आपके हाथ में आने वाला है। जनाब कुछ ही सालों में एक ऐसी टेक्नोलॉजी स्मार्टफोंस में आने वाली है जिसके बाद स्‍मार्टफोन सच में आपक सच्चे दोस्त कहलाएंगे क्योंकि तब वो आपको छुए या देखे बिना ही सिर्फ आपकी खुशबु से ही आप को पहचान लेंगे और अनलॉक हो जाएंगे।

स्मार्टफोन जल्द बनेगा आपका सच्चा दोस्त क्योंकि वो आपकी महक सूंघकर ही अनलॉक हो जाएगा!

फोन सूंघ लेगा आपके पसीने की महक
यह बात आपको सुनने में भले ही अजीब लगे, लेकिन दुनिया में हर एक इंसान के शरीर से निकलने वाला पसीना भी एक दूसरे से बिल्कुल अलग होता है जैसे कि आपका फिंगरप्रिंट। इसी बात को आधार बनाकर वैज्ञानिक Sweat print टेक्नोलॉजी पर काम कर रहे हैं। जिसमें स्मार्टफोंस में लगे सेंसर किसी भी यूजर के पसीने में मौजूद अमीनो एसिड की महक को पहचान लेंगे और उन्हें पता चल जाएगा कि यह फोन का मालिक है या फिर नहीं। न्‍यूयॉर्क की Albany यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर Jan Halamek डिजिटल डिवाइसेस के अनलॉकिंग सिस्टम में जटिल बायोलॉजिकल फीचर्स को ऐड करने पर काम कर रहे हैं।

कोई दूसरा व्‍यक्ति नहीं कर पाएगा अनलॉक
इस अनोखी तरह की सेक्‍योरिटी टेक्नोलॉजी में कोई भी व्यक्ति जो कि फोन का असली मालिक ना हो उसे अनलॉक नहीं कर पाएगा। तमाम ऐसे लोग जिन्हें पासवर्ड भूलने की आदत है उनके लिए यह टेक्नोलॉजी काफी मजेदार और काम की साबित होगी। आपको बता दें कि करीब 5 सालों में स्वेट प्रिंट टेक्नोलॉजी दुनिया के लिए एक बड़ी हकीकत होगी, जिसे दुनिया यूज़ कर पाएगी।

स्मार्टफोन जल्द बनेगा आपका सच्चा दोस्त क्योंकि वो आपकी महक सूंघकर ही अनलॉक हो जाएगा!

फिंगर स्‍कैन और फेस डिटेक्‍शन टेक्‍नोलॉजी को ब्रेक करना आसान
यूं तो तमाम लोग मानते हैं कि फिंगरप्रिंट और फेस रिकग्निशन टेक्नोलॉजी बहुत ही सेक्योर और कारगर है लेकिन ऐसा नहीं है। पिछले दिनों जारी हुई तमाम खबरों के अनुसार फेस डिटेक्शन टेक्नोलॉजी को तमाम हैकर्स बाई पास कर चुके हैं। इसके अलावा Apple के फेस रिकग्निशन सिक्योरिटी फीचर को कई सिक्योरिटी एक्सपर्ट ने मिलकर एक फेक मास द्वारा बेवकूफ बना दिया। कई बार तो यूजर की फोटो दिखाकर ही फोन के फेस डिटेक्शन सिक्योरिटी को खोल जा चुका है। यह सब सुनने के बाद लगता है कि फोन की सिक्योरिटी के मामले में यह आने वाली नई टेक्नोलॉजी वाकई काफी कारगर और बेहतरीन साबित होगी।

Technology News inextlive from Technology News Desk