-कैंट पुलिस ने ड्राइवर समेत तीन अन्य चोर को किया गिरफ्तार

-गैंग का सरगना फरार, मौके से छह चार पहिया वाहन बरामद

prayagraj@inext.co.in

PRAYAGRAJ: सुल्तानपुर के पूर्व विधायक ओम प्रकाश चौधरी के ड्राइवर भीम सिंह, इमरान अहमद, त्रियुगी नारायण व राजू भारतीय को चोरी के आरोप में गिरफ्तार किया गया है. पुलिस ने अभियुक्तों के पास से चोरी की छह चार पहिया वाहन बरामद किया है. मौका पाकर गैंग का सरगना विनोद कुमार जायसवाल उर्फ पप्पन फरार हो गया है. पुलिस उसकी तलाश कर रही है. आईपीएस सुकीर्ति माधव ने रविवार को अभियुक्तों को मीडिया के सामने पेश किया.

चुराकर गाड़ी कटवा देते थे

रविवार दोपहर अभियुक्तों को पुलिस लाइन सभागार में मीडिया के सामने पेश किया गया. एएसपी सुकीर्ति माधव ने बताया कि होलागढ़ का विनोद जायसवाल और प्रतापगढ़ के जेठवारा खटवारा गांव का त्रियुगी नारायण पांडेय पुरानी गाड़ी को चुराते थे. इसके बाद इन वाहनों को कबाड़ी को बेचकर कटवा देते थे और गाड़ी का रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट अपने पास सुरक्षित रख लेते थे. इसके बाद ये लोग कुछ दिनों बाद उसी मॉडल की नई गाड़ी चुराकर सुल्तानपुर के गबाडिया निवासी इमरान उर्फ सोनू के बाबा गैराज में ले जाते थे. वहां इमरान की मदद से डेंटिंग-पेंटिंग करके पुरानी गाड़ी की आरसी में लिखा गया चेचिस व इंजन नंबर को पंच करा देते थे. फिर उस गाड़ी को भीम सिंह व राजू की मदद से 70 से 90 हजार रुपये में बेचते थे. भीम सिंह सुल्तानपुर के कादीपुर का रहने वाला है और राजू थरवई थाना क्षेत्र के बड़नपुर का निवासी है.

कई मुकदमे हैं दर्ज

त्रियुगी नारायण शिवकुटी में किराए का कमरा लेकर साथियों के साथ रहता था. इंस्पेक्टर कैंट आरएस रावत ने बताया कि अभियुक्तों के पास से मिली कार पूर्व विधायक के बेटे अंगद चौधरी के नाम पर 2012 में ली गई थी. हैरानी की बात यह है कि उसका रजिस्ट्रेशन नहीं हुआ था. उन्होंने बताया कि भीम अंगद का साथी है और पूर्व विधायक का ड्राइवर है. वांछित विनोद के खिलाफ मध्य प्रदेश और यूपी के कई थाने में मुकदमे दर्ज हैं. त्रियुगी मऊआइमा से भी वांछित चल रहा था.