जिंबाब्‍वे क्रिकेट ने दी जानकारी
कानपुर। जिंबाब्‍वे क्रिकेट टीम ने पूर्व भारतीय क्रिकेटर लालचंद राजपूत को अपना हेड कोच नियुक्‍त किया है। पीटीआई की मानें तो लालचंद ने खुद इस बात का खुलासा किया। बकौल लालचंद, जिंबाब्‍वे क्रिकेट बोर्ड ने उनके साथ संपर्क किया है और यह उनके लिए एक बड़ा अवसर है। आपको बता दें कि लालचंद पूर्व जिंबाब्‍वे क्रिकेटर हीथ स्‍ट्रोक को रिप्‍लेस करेंगे। स्‍ट्रोक को इसी साल मार्च में कोच पद से हटा दिया गया था क्‍योंकि जिंबाब्‍वे क्रिकेट टीम अगले साल होने वाले वर्ल्‍डकप के लिए क्‍वॉलीफाई नहीं कर पाई थी। जिंबाब्‍वे क्रिकेट ने अपने ऑफिशियल टि्वटर एकाउंट पर भी लालचंद को कोच बनाने की बात कही है।

कौन हैं लालचंद राजपूत
मुंबई में जन्‍में 56 साल के लालचंद राजपूत भारत के पूर्व क्रिकेटर रहे हैं। लालचंद ने 1985 में इंटरनेशनल डेब्‍यू किया था, मगर उनका करियर ज्‍यादा लंबा नहीं चला। बतौर बल्‍लेबाज टीम इंडिया में शामिल हुए लालचंद ने पूरे करियर में सिर्फ 2 टेस्‍ट मैच खेले जिसमें उनके नाम 26.25 की औसत से 105 रन बनाए, इसमें एक अर्धशतक भी शामिल है। वनडे करियर की बात करें तो लालचंद के खाते में सिर्फ 4 मैच दर्ज हैं जिसमें उन्‍होंने सिर्फ 9 रन बनाए। राजपूत ने अपना आखिरी अंतरराष्‍ट्रीय मैच पाकिस्‍तान के खिलाफ 1987 में खेला था। हालांकि लालचंद का फर्स्‍ट क्‍लॉस में रिकॉर्ड काफी अच्‍छा है। उन्‍होंने 110 मैचों में 49.30 की औसत से 7988 रन बनाए हैं जिसमें 20 शतक और 46 अर्धशतक शामिल हैं।

भारतीय टीम के रहे हैं मैनेजर

राजपूत साल 2007 में पहला टी-20 विश्व कप जीतने वाली भारतीय टीम के मैनेजर रह चुके हैं। इसके अलावा राजपूत साल 2016 में अफगानिस्तान क्रिकेट टीम के कोच भी रह चुके हैं। पिछले घरेलू सत्र में वो असम के साथ जुड़े थे तो वहीं आईपीएल की बात करें तो वो मुंबई इंडियंस की टीम के लिये भी कोचिंग कर चुके हैं। खैर किसी राष्ट्रीय टीम में मुख्य कोच के तौर पर उनकी पहली परीक्षा जुलाई 2018 में होगी जब उनकी टीम जिम्बाब्वे, पाकिस्तान और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी-20 मैचों की ट्राई सीरीज में उतरेगी।

2019 में शुरु होकर 2 साल चलेगा 'टेस्‍ट वर्ल्‍ड कप', बिना टॉस उछाले खेला जाएगा मैच!

Cricket News inextlive from Cricket News Desk