- गोपनीय पत्र लीक मामले में हाईकोर्ट के आदेश पर जांच कर रही एसआईटी का नहीं हो पा रहा संपर्क

- तीन टीमें मामले के साक्ष्य जुटाने की कर रही हैं कोशिश

lucknow@inext.co.in
LUCKNOWपूर्व सांसद धनंजय सिंह की सुरक्षा को लेकर लिखा गया गोपनीय पत्र लीक होने के मामले की जांच कर रही एसआईटी को बयान दर्ज करने के लिये धनंजय सिंह ढूंढे नहीं मिल रहे। यही वजह है कि कोर्ट से एक बार समय बढ़वाने के बावजूद एसआईटी अब तक उनसे पूछताछ व बयान दर्ज नहीं कर सकी है।

यह था मामला
गौरतलब है कि धनंजय सिंह की सुरक्षा को लेकर लिखा गया गोपनीय पत्र लीक हो गया था। दरअसल, एसटीएफ से यह गोपनीय पत्र इंटेलीजेंस मुख्यालय भेजा गया था। गोपनीय पत्र धनंजय सिंह को हासिल हो गया था। जिसे उनके अधिवक्ता ने कोर्ट के समक्ष प्रस्तुत कर दिया था। हाईकोर्ट ने इसे बेहद गंभीरता से लेते हुए जांच का आदेश दिया था कि यह पत्र किस स्तर से लीक हुआ। डीजीपी हेडक्वार्टर से भी गोपनीय पत्र के लीक होने की जांच कराई गई लेकिन, कोई नतीजा नहीं निकल सका था। बाद में हाईकोर्ट के आदेश पर जांच एसआईटी को सौंप दी गई थी।

तीन टीमें जुटा रहीं साक्ष्य
एसआईटी को 17 अप्रैल तक जांच रिपोर्ट कोर्ट के समक्ष प्रस्तुत करनी थी। लेकिन, एसआईटी ने जांच पूरी करने के लिये और समय मांगा था। बताया जा रहा है कि एसआईटी धनंजय सिंह का बयान लेने और उनसे पूछताछ करने के लिये उन्हें तलाश रही है। पर, तमाम कोशिशों के बावजूद उनसे संपर्क नहीं हो सका। अधिकारियों को चिंता सता रही है कि अगर अब भी धनंजय सिंह से संपर्क नहीं हो सका तो वे कोर्ट में जांच रिपोर्ट कैसे प्रस्तुत करेंगे। उधर, तीन टीमें विभिन्न स्तरों पर प्रकरण की जांच कर साक्ष्य जुटाने की कोशिश कर रही हैं।