कानपुर। वेस्टइंडीज महिला क्रिकेट टीम की विकेटकीपर बल्लेबाज मेरिसा एगुलेरिया ने इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कह दिया है। 33 साल की मेरिसा ने वेस्टइंडीज महिला क्रिकेट टीम के लिए वनडे और टी-20 दो फाॅर्मेट खेले हैं। यही नहीं वह टीम की कप्तान भी रहीं। मेरिसा को कैरेबियाई महिला टीम का एमएस धोनी कहा जाता है क्योंकि जो रिकाॅर्ड माही ने भारत के लिए बनाए वही सब मेरिसा ने वेस्टइंडीज के लिए खेलते हुए अपने नाम किए।

2008 में शुुरु किया था करियर
मेरिसा ने साल 2008 में इंटरनेशनल क्रिकेट में कदम रखा था। उन्होंने नीदरलैंड के खिलाफ वनडे डेब्यू किया। हालांकि शुरुआत में उन्होंने बतौर विकेटकीपर बल्लेबाजी एंट्री की। इसके बाद टीम की कप्तान बनी। मेरिसा के नाम 112 वनडे दर्ज हैं जिसमें उन्होंने 1752 रन बनाए। हालांकि वह कोई शतक तो नहीं लगा पाईं लेकिन छह अर्धशतक जरूर अपने नाम कर गईं।


इन्होंने खेले हैं 95 टी-20
मेरिसा के टी-20 करियर की बात करें इस महिला खिलाड़ी के नाम 95 टी-20 मैच दर्ज हैं। जिसमें इन्होंने 14.49 की औसत से 768 रन बनाए हैं। टी-20 में मेरिसा का हाईएस्ट स्कोर नाबाद 39 रन है।

बतौर कप्तान सबसे ज्यादा मैच
वेस्टइंडीज महिला क्रिकेट टीम के लिए मेरिसा ने सबसे ज्यादा मैचों में कप्तानी की है। मेरिसा का ये रिकाॅर्ड धोनी जैसा है, हालांकि आंकड़ों में वह थोड़ा पीछे हैं। धोनी जहां 200 वनडे में कप्तानी कर चुके हैं वहीं मेरिसा ने वेस्टइंडीज के लिए सबसे ज्यादा 74 मैचों में कप्तानी की।

वर्ल्डकप टीम में नजरअंदाज किया गया ये भारतीय क्रिकेटर खेलेगा विदेशी टीम में

फील्डिंग करते हुए क्रिकेटर की हड्डी टूटकर हुई अलग, तस्वीरें कर देंगी हैरान

सबसे ज्यादा डिसमिसल
मेरिसा के नाम वेस्टइंडीज महिला टीम के लिए वनडे और टी-20 में बतौर विकेटकीपर सबसे ज्यादा डिसमिसल का रिकाॅर्ड है। ऐसा ही कुछ कारनामा माही ने भारत के लिए किया है।

Cricket News inextlive from Cricket News Desk