-धर्मशाला बाजार में आनलाइन लगा रहे थे बोली

-क्राइम ब्रांच ने दबोचा, ढाई लाख नकदी और मोबाइल बरामद

GORAKHPUR: शहर के भीतर आईपीएल सट्टेबाजी का गैंग का संचालित हो रहा था। गोरखनाथ एरिया के धर्मशाला बाजार में रवि गुप्ता के मकान में छापेमारी कर क्राइम ब्रांच की टीम ने चार लोगों को अरेस्ट किया। उनके पास से ढाई लाख रुपए नकदी, आठ मोबाइल फोन और लैपटॉप मिले। पकड़े गए लोगों से पूछताछ कर पुलिस रैकेट से जुड़े अन्य लोगों की तलाश में जुटी है। सीओ प्रवीण सिंह ने बताया कि एक गोपनीय सूचना पर टीम ने एक्शन लिया।

मकान में दिनभर हो रहा था संचालन

धर्मशाला बाजार में रवि गुप्ता का मकान है। वहां कुछ लोग रोजाना जुटते थे। आईपीएल मैच शुरू होने के पहले पहुंचने वाले लोग दिनभर विभिन्न टीमों पर रुपए का दांव लगा रहे थे। जीत-हार को लेकर बड़ी रकम लगाए जाने पर लोग अगल-बगल के लोगों से उधार भी मांगते थे। धीरे-धीरे यह बात पूरे क्षेत्र में फैल गई कि रवि गुप्ता के मकान में आईपीएल का जुआ चल रहा है। मामले की जानकारी होने पर सीओ प्रवीण सिंह ने क्राइम ब्रांच की टीम को एक्टिव किया। मोबाइल सर्विलांस के जरिए पुलिस ने सटीक जानकारी जुटाई। रविवार को गोरखनाथ पुलिस के साथ क्राइम ब्रांच ने छापेमारी की। कार्रवाई से सट्टा खेल रहे लोगों में भगदड़ मच गई।

भिड़कर भागने की कोशिश, चार को किया अरेस्ट

पुलिस वालों से हाथापाई कर कुछ लोग भाग निकले। हालांकि टीम ने चार लोगों को दबोच लिया। पूछताछ में उनकी पहचान धर्मशाला बाजार, दक्षिणी जटेपुर मोहल्ला निवासी रवि गुप्ता और राकेश जायसवाल, गोरखनाथ एरिया के राजेंद्र नगर मोहल्ले के प्रिंस चौबे, कोतवाली एरिया के गोलघर पुर्दिलपुर निवासी किशन के रूप में हुई। वहां कमरे में पुलिस ने दो लाख 50 हजार रुपए नकद, आठ मोबाइल फोन और लैपटॉप बरामद किया। पूछताछ में पता लगा कि पुर्दिलपुर मोहल्ले के अजय यादव, नार्मल तुर्कमानपुर निवासी अंकुर गोस्वामी, धर्मशाला बाजार फलमंडी के शैलू गुप्ता और जाहिदाबाद के दानिश फरार हुए थे। पुलिस उनकी तलाश में जुटी है।

वर्जन

आईपीएल सट्टेबाजी में चार लोगों को अरेस्ट कर लिया गया है। मौके से फरार हुए लोगों की तलाश चल रही है। जल्द ही उनको भी पकड़ लिया जाएगा। शहर में अन्य जगहों पर सट्टेबाजी की सूचना मिली है।

प्रवीण कुमार सिंह, सीओ क्राइम ब्रांच