- गुमटी और नमक फैक्ट्री में पब्लिक ने काटा हंगामा, हैलट की बिजली गुल होने से तीमारदार तमतमाए

-आंधी-तूफान से दो दर्जन से ज्यादा पोल, पेड़ टूटे, बिजली, पानी संकट से जूझे लाखों लोग

kanpur@inext.co.in

KANPUR: मंगलवार की देररात आए आंधी-तूफान का असर नार्थ सिटी के एक बड़े हिस्से में ज्यादा रहा. सबसे ज्यादा नुकसान भी इसी एरिया में हुआ. दर्जनों की पेड़, इलेक्ट्रिसिटी धाराशायी हो गए. इससे लाखों की आबादी रातभर अंधेरे में डूबी रही. बुधवार को दिनभर लाइट न आने से लोगों को पानी संकट से भी जूझना पड़ा. गुस्साए लोगों ने गुमटी व नमक फैक्ट्री सबस्टेशन में धावा बोलकर हंगामा काटा. वहीं रोजेदारों ने चीना पार्क सबस्टेशन का घेराव किया.

पूरे शहर में नहीं जोरदार आंधी

बुधवार की आधी रात आंधी के साथ बारिश हुई. इससे लगभग शहर में अंधेरे में डूब गया. हालांकि आंधी थमने के बाद साउथ सिटी और नार्थ सिटी के बड़े हिस्से की पॉवर सप्लाई चालू हो गई. पर इसके बाद 70 किलोमीटर से अधिक रफ्तार से आंधी आई. हालांकि यह आंधी पूरे शहर में नहीं. कालपी रोड से गंगा के बीच के हिस्से में जरीबचौकी से लेकर कल्याणपुर की तरफ आंधी से जबरदस्त नुकसान हुआ. बाबा सिंह ढाल के पास हाईटेंशन लाइन व एलटी लाइन टूटने से जवाहर नगर व जरीबचौकी सबस्टेशन ठप रहे. वहीं 7 पोल टूटने से गुमटी व फजलगंज सबस्टेशन ठप हो गया. बकरमंडी ढाल के पास पेड़ टूटने से चीना पार्क सबस्टेशन ठप रहा. वहीं गुरूदेव पैलेस चौराहा के पास, गुटैया क्रासिंग, विकास नगर में आदि पेड़ टूट गए. इनकी वजह से रात भर लाखों को लोगों को अंधेरे से जूझना पड़ा. सबसे अधिक समस्या का सामना चमनगंज, चीना पार्क, नमक फैक्ट्री, शास्त्री नगर, गुमटी, जवाहर नगर व जवाहर नगर सबस्टेशन से जुड़े मोहल्लों मोहल्ले के लोगों को उठाना पड़ा. जवाहर नगर व जरीबचौकी सबस्टेशन बुधवार की शाम 7 बजे करीब चालू हो सके. उधर गुमटी सबस्टेशन व चीना पार्क सबस्टेशन रात 9 बजे के करीब चालू हो सके.