- आठ लोगों से हड़पे लाखों रुपये

- एसएसपी से की मामले में कंप्लेन

आगरा. दो शातिरों ने फर्जी आवास विकास अफसर बनकर लाखों का चूना लगा दिया. पीडि़तों के सिकंदरा ऑफिस में पहुंचने पर मामला उजागर हुआ. पुलिस में शिकायत करने पर जान से मारने की धमकी दी. मामले में पीडि़तों ने एसएसपी से मामले की शिकायत की है.

रीसेल आवास का दिया झांसा

कमला नगर निवासी मिट्ठू केसी समेत आठ लोगों ने मामले में शिकायत की है. पीडि़तों के मुताबिक उन्हें एक युवक मिला था, जिसने खुद को आवास विकास में अधिकारी बताया व अपने भाई को कर्मचारी बताया. उसने मिट्ठू व अन्य लोगों को पुराने मकान को रिसेल में दिलवाने का आश्वासन दिया.

मकान मांगने पर मिली धमकी

पीडि़तों के मुताबिक कुल 280000 रुपये फॉर्म भरवाकर ले लिए. शातिरों ने बताया था कि 120 दिन में लॉटरी निकल जाएगी. लेकिन आठ महीने बीत जाने के बाद भी लॉटरी नहीं निकली. 21 अप्रैल को जब लोगों ने उनसे मकान के बारे में बात की तो धमकी देना शुरु कर दिया. आरोप है कि शातिरों ने कहा कि अपना मुंह बंद रखो अगर पुलिस से शिकायत की तो सबको जान से मरवा देंगे. धमकी देने के बाद मोबाइल बंद कर लिया. 25 अप्रैल को आवास विकास ऑफिस, सिकंदरा में फॉर्म दिखाने पर सारे कागज फर्जी निकले. पीडि़त शिकायत लेकर एसएसपी कार्यालय पहुंचे. पुलिस मामले की छानबीन कर रही है.