हॉस्पिटल बुलाया और 65 हजार का मोबाइल कर दिया पार
agra@inext.co.in
AGRA. ई-बिजनेस से लगातार ठगी की घटनाएं बढ़ने के मामले सामने आ रहे हैं. ऐसे ही एक मामला का शिकार एमबीबीएस का छात्र हुआ. उसने एक वेबसाइट के माध्यम से मोबाइल बेचने के लिए डाला. इस पर ठग ने डॉक्टर बनकर छात्र को हॉस्पिटल बुलाया और मोबाइल पार करके रफूचक्कर हो गया. ठग की फोटो सीसीटीवी में कैद हो गई है.

ई-कॉमर्स साइट पर डाला था मोबाइल
मूल रूप से मुरादाबाद निवासी निवासी मो. आसिम पुत्र शकील अहमद टूंडला स्थित एफएच मेडिकल कॉलेज में एमबीबीएस का छात्र है. कुछ दिन पहले आसिम ने अपना मोबाइल ई-बिजनेस साइट पर डाला. उसके पास 10 जुलाई को मोबाइल खरीदने का मैसेज आया. इच्छुक खरीदार ने स्वयं परिचय डॉक्टर के रूप में दिया. उसमें अपना नाम करन सिंह बताया और प्रैक्टिस के स्थान एमजी रोड और दिल्ली गेट बताए. पते रूप में एमजी रोड स्थित एक निजी हॉस्पिटल की ओपीडी-6 दी. 12 जुलाई को छात्र तय पते पर पहुंचा. उसने फोन करके आने की सूचना दी. कुछ देर बाद उसे शातिर ठग प्रथम तल पर ऑपरेशन थियेटर रूम के पास ले गया. ठग ने बात करते-करते उससे 65 हजार का सैमसंग का एस-9 मोबाइल हाथ में ले लिया और हिसाब-किताब करने की बात करने लगा. वह वहां से कुछ देर में वापस लौटने का बहाना करके निकल गया. फिर वापस नहीं लौटा. छात्र देर तक इंतजार करता रहा. इसके बाद रिशेप्सन पर डॉक्टर का नाम बता कर पूछताछ की तो पता चला कि वहां इस नाम का कोई डॉक्टर नहीं है. ठगी के शिकार छात्र ने थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई.

फुटेज दिखाई दिया ठग
छात्र के मुताबिक ठग ने डॉक्टर की तरह स्टेथोस्कोप लगाया हुआ था. वह हॉस्पिटल की सीसीटीवी फुटेज में जाता हुआ दिखाई दे रहा है. इस तथ्य के सामने आने के बाद छात्र ने थाने की शरण ली. थाने में पुलिस ने मोबाइल गिरने की रिपोर्ट दर्ज कराने का दबाव दिया. छात्र ने अपने परिजनों से बात कर अमानत में खयानत का मुकदमा दर्ज कराया है.